होम /न्यूज /राजस्थान /

राजस्थान: छात्र की मौत पर परिजन को सरकारी नौकरी देने पर डोटासरा ने दिया ये बडा बयान

राजस्थान: छात्र की मौत पर परिजन को सरकारी नौकरी देने पर डोटासरा ने दिया ये बडा बयान

जालौर जिले में नौ वर्षीय दलित छात्र इंद्र कुमार को पानी का मटका छूने पर शिक्षक शैल सिंह ने बुरी तरह से पीटा था. छात्र की बाद में 13 अगस्‍त को अहमदाबाद के एक अस्पताल में मौत हो गई.

जालौर जिले में नौ वर्षीय दलित छात्र इंद्र कुमार को पानी का मटका छूने पर शिक्षक शैल सिंह ने बुरी तरह से पीटा था. छात्र की बाद में 13 अगस्‍त को अहमदाबाद के एक अस्पताल में मौत हो गई.

Jalour News: जालोर जिले के एक स्कूल में टीचर की मारपीट से दलित बच्चे की मौत का मुद्दा गर्मा गया है. दलित राजनीति को लेकर कांग्रेस पार्टी के अंदर विरोधी स्वर उठ रहे हैं और विपक्ष भी हमलावर है. ऐसे में सरकार ने 20 लाख रुपये से पीड़ित परिवार की आर्थिक मदद की है. इससे साथ ही परिवार से एक सदस्य को सरकार नौकरी देने के बारे में भी सकारात्मक निर्णय लेने के लिए कहा है. सरकार देखेगी कि क्या ऐसे मामले में पहले नौकरी दी गई है?

अधिक पढ़ें ...

जालोर. जालोर जिले में सरस्वती विद्या मंदिर के टीचर की निर्ममता से की पिटाई से हुई नौ साल के दलित छात्र की ‘हत्या’ (Dalit Student murder case) का मामला तूल पकड़ता जा रहा है. प्रदेश के कई जिलों में मंगलवार को विरोध-प्रदर्शन देखने को मिला. इस बीच शिक्षा मंत्री बीडी कल्ला (Education Minister BD Kalla) ने कहा कि नाबालिग दलित छात्र की मौत प्रकरण में संबद्ध निजी स्कूल की मान्यता समाप्त (Recognition canceled) की जा रही है.

जालौर जिले में नौ वर्षीय दलित छात्र इंद्र कुमार को पानी का मटका छूने पर शिक्षक शैल सिंह ने बुरी तरह से पीटा था. छात्र की बाद में 13 अगस्‍त को अहमदाबाद के एक अस्पताल में मौत हो गई. आरोपी शिक्षक को पहले ही पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है.

कई जिलों में विरोध-प्रदर्शन, 50 लाख देने की मांग
जालोर जिले के सुराणा में छात्र इंद्र मेघवाल की मौत के मामले को लेकर राजस्थान की राजनीति उफान पर है. प्रदेश के कई जिलों में मंगलवार को विरोध-प्रदर्शन देखने को मिला. इस दौरान राजस्थान के कई संगठन पीड़ित परिवार को 50 लाख का मुआवजा और सरकारी नौकरी देने की मांग कर रहे हैं. इस बीच प्रदेश अध्यक्ष गोविंद सिंह डोटासरा ने जालोर के सर्किट हाउस में प्रेस कॉन्फ्रेंस में कांग्रेस कमेटी की ओर से 20 लाख रुपये देने की घोषणा की. साथ ही कहा कि सरकारी नौकरी के लिए सकारात्मक प्रयास किए जाएंगे. सरकार देख रही है कि ऐसे मामलों में सरकारी नौकरी देने का क्या प्रावधान है.

दलित छात्र मर्डर केस: पायलट 200 वाहनों के काफिले के साथ पहुंचे सुराणा, डोटासरा आये 4 मंत्री लेकर

Dalit Student Murder case, Jalour News, Education Minister BD Kalla, Congress state president Govind singh Dotasara, Sachin Pilot, Panachand Meghwal, Madan Dilawar, Rajasthan news in Hindi

दलित छात्र की मौत के मामले में शिक्षा मंत्री बीडी कल्ला ने बीकानेर में संवाददाताओं से बातचीत की. उन्होंने बताया कि नाबालिग दलित छात्र की मौत प्रकरण में संबद्ध निजी स्कूल की मान्यता समाप्त करने की कार्रवाई की जा रही है.
दलित छात्र से जुड़े स्कूल की मान्यता समाप्त होगी-शिक्षा मंत्री
दलित छात्र की मौत के मामले में शिक्षा मंत्री बीडी कल्ला ने बीकानेर में संवाददाताओं से बातचीत की. उन्होंने बताया कि नाबालिग दलित छात्र की मौत प्रकरण में संबद्ध निजी स्कूल की मान्यता समाप्त करने की कार्रवाई की जा रही है. मंत्री ने कहा कि इसके साथ ही एक परामर्श जारी क‍िया जाएगा, ताकि भविष्य में इस तरह की घटनाओं की पुनरावृत्ति किसी भी सूरत में न होने पाए. उन्होंने कहा कि सरकार स्कूलों में छात्रों की पूर्ण सुरक्षा के लिए कटिबद्ध है.

राजनीति उफान पर, कांग्रेस विधायक मेघवाल दे चुके इस्तीफा
इस बीच दलित छात्र की मौत पर राजनीति उफान पर है. सत्ताधारी पार्टी के बारां के अटरू से विधायक पानाचंद मेघवाल ने दलितों पर हो रहे लगातार अत्याचार से आहत होकर सीएम को अपना इस्तीफा ही भेज चुके हैं. अपनी सरकार को कठघरे में खड़ा करते हुए उन्होंने लिखा है कि आजादी के 75 साल बाद भी राजस्थान में दलित और वंचित वर्ग पर लगातार अत्याचार हो रहे हैं. दूसरी ओर बीजेपी प्रदेश महामंत्री व रामगंजमंडी से विधायक मदन दिलावर ने वीडियो बयान जारी कर प्रदेश की कांग्रेस सरकार पर निशाना साधा है.

दलितों पर अत्याचार तो हमारी जिम्मेदारी बनती है-पायलट
पूर्व उपमुख्यमंत्री सचिन पायलट भी स्थानीय नेताओं के एक समूह के साथ पीड़ित परिवार से मिले. पायलट ने संवाददाताओं से कहा, ‘‘आजादी के 75 साल बाद भी हमारी व्यवस्था में इस तरह का भेदभाव हो रहा है. यह हम सभी के लिए आत्मचिंतन का विषय है.” उन्होंने मार्च में पाली में कथित तौर पर मूंछ रखने को लेकर एक दलित व्यक्ति की हत्या का भी जिक्र किया. उन्होंने कहा कि जालोर में दलित बच्चे की मौत कई सवाल पैदा करती है. कांग्रेस की सरकार है, इसलिए हमारी जिम्मेदारी भी बनती है. पायलट ने कहा कि बच्चे के शव को रात में दफना दिया गया और परिवार के सदस्यों का आरोप है कि पुलिस ने उन पर लाठीचार्ज किया. उन्होंने कहा, ‘वे अनुमंडलाधिकारी और पुलिस उपाधीक्षक का नाम ले रहे हैं और उनके खिलाफ तत्काल कार्रवाई की जानी चाहिए.’ वहीं सुराणा व सियावत गांव पुलिस की छावनी में दब्दील हो गया है. गांव में 6 जिलों की 700 से अधिक पुलिस फ़ोर्स तैनात है. भीम सेना के नेताओं के आने का भी प्रोग्राम है.

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर