होम /न्यूज /राजस्थान /

Rajasthan: स्कूल में पिटाई से दलित छात्र की मौत के बाद जालोर में इंटरनेट किया बंद, टीचर गिरफ्तार

Rajasthan: स्कूल में पिटाई से दलित छात्र की मौत के बाद जालोर में इंटरनेट किया बंद, टीचर गिरफ्तार

जालोर के दलित मासूम बच्चे की हत्या के इस मामले को त्वरित अनुसंधान एवं दोषी को जल्द सजा दिलाने के लिये  केस ऑफिसर स्कीम में लिया गया है.

जालोर के दलित मासूम बच्चे की हत्या के इस मामले को त्वरित अनुसंधान एवं दोषी को जल्द सजा दिलाने के लिये केस ऑफिसर स्कीम में लिया गया है.

दलित छात्र की मौत के बाद जालोर में हाई अलर्ट: जालोर जिले के सायला थाना इलाके के सुराणा गांव में टीचर की पिटाई से 9 वर्षीय दलित छात्र की मौत (Dalit child death) हो जाने के बाद ऐहतियात के तौर पर पूरे जिले में इंटरनेट सेवायें बंद (Internet shut down) कर दी गई है. वहीं आरोपी शिक्षक को गिरफ्तार कर लिया गया है. सीएम अशोक गहलोत ने छात्र की मौत पर दुख जताते हुये उसके परिजनों को पांच लाख रुपये का मुआवजा दिये जाने की घोषणा की है.

अधिक पढ़ें ...

हाइलाइट्स

मृतक छात्र के परिजनों को पांच लाख मुआवजा दिये जाने की घोषणा
प्रशासन ने सायला कस्बे और सुराणा गांव में तैनात की भारी पुलिस फोर्स

श्याम सुंदर बिश्नोई.

जालोर. जालोर जिले के सायला थाना इलाके में टीचर की पिटाई से दलित छात्र की मौत (Dalit child death) मामले को लेकर राजस्थान की सियासत गरमाई गई है. माहौल ना बिगड़ने इसलिये पूरे जालोर जिले में इंटरनेट बंद (Internet shut down) कर दिया गया है. राजस्थान सरकार की ओर से मृतक बच्चे के परिजनों को पांच लाख रुपये मुआवजा दिये जाने की घोषणा की गई है. वहीं आरोपी शिक्षक को गिरफ्तार कर लिया गया है. मासूम का शव अभी उसके गांव पहुंचा नहीं है. हालात पर नियंत्रण रखने के लिये जालोर का पुलिस प्रशासन पूरी तरह से अलर्ट मोड पर आ गया है. कलेक्टर और एसपी समेत आलाधिकारी गांव के पास ही स्थित पुलिस चौकी में डेरा डाले बैठे हैं. बच्चे के गांव और सायला में भारी पुलिस जाब्ता तैनात कर दिया गया है.

सीएम अशोक गहलोत ने घटना पर दुख व्यक्त किया है. सीएम गहलोत ने ट्वीट करके कहा कि जालोर के सायला थाना क्षेत्र में एक निजी स्कूल में शिक्षक द्वारा मारपीट के कारण छात्र की मृत्यु दुखद है. आरोपी शिक्षक के विरुद्ध हत्या व SC/ST एक्ट की धाराओं में प्रकरण पंजीबद्ध कर गिरफ्तारी की जा चुकी है. मामले के त्वरित अनुसंधान एवं दोषी को जल्द सजा हेतु प्रकरण को केस ऑफिसर स्कीम में लिया गया है. पीड़ित परिवार को जल्द से जल्द न्याय दिलवाना सुनिश्चित किया जाएगा. मृतक के परिजनों को 5 लाख रुपये सहायता राशि मुख्यमंत्री सहायता कोष से दी जाएगी.

सायला और सुराणा गांव में भारी पुलिस बल तैनात
वहीं इस घटना के बाद सियासत गरमाने को देखते हुये जिला प्रशासन ने सोमवार को सुबह पांच बजे तक के लिये पूरे जिले में इंटरनेट सेवायें बंद कर दी हैं. छात्र की पिटाई करने के आरोपी टीचर छैल सिंह को गिरफ्तार कर लिया गया है. पूरे जिले में पुलिस प्रशासन को अलर्ट कर दिया गया है. सायला कस्बे और छात्र के गांव सुराणा में माहौल में ना बिगड़े इसके लिये वहां भारी अतिरिक्त पुलिस जाब्ता तैनात किया गया है. अभी तक मासूम के शव को उसके गांव नहीं ला गया है. दोपहर तक उसके सुराणा गांव पहुंचने की संभावना है. लिहाजा जिला कलेक्टर और पुलिस अधीक्षक ने वहीं पर डेरा डाल रखा है.

यह है पूरा मामला
उल्लेखनीय है कि सायला के सुराणा गांव के निजी स्कूल सरस्वती विद्या मंदिर में तीसरी कक्षा में पढ़ने वाले इंद्र मेघवाल की शिक्षक की ओर से की गई पिटाई के बाद तबीयत खराब हो गई थी. 9 साल के मासूम के साथ यह घटना बीते 20 जुलाई को हुई थी. उसके बाद उपचाराधीन इंद्र मेघवाल ने शनिवार को अहमदाबाद में दम तोड़ दिया था. परिजनों का आरोप है कि टीचर ने बच्चे की पिटाई इसलिये की थी उसने पानी के मटके के हाथ लगा दिया. टीचर की पिटाई से मासूम के कान की नस फट गई थी.

Tags: Ashok Gehlot Government, Crime News, Dalit Harassment, Rajasthan news

अगली ख़बर