होम /न्यूज /राजस्थान /

राजस्थान: गोविंद सिंह डोटासरा ने छात्र इंद्र मेघवाल की मौत के मामले में किया 20 लाख रुपये देने का ऐलान

राजस्थान: गोविंद सिंह डोटासरा ने छात्र इंद्र मेघवाल की मौत के मामले में किया 20 लाख रुपये देने का ऐलान

डोटासरा ने यह घोषणा ऐसे समय की है जब राजस्थान के कई संगठन पीड़ित परिवार को 50 लाख का मुआवजा और सरकारी नौकरी देने की मांग कर रहे हैं.

डोटासरा ने यह घोषणा ऐसे समय की है जब राजस्थान के कई संगठन पीड़ित परिवार को 50 लाख का मुआवजा और सरकारी नौकरी देने की मांग कर रहे हैं.

राजस्थान के सुराणा में छात्र इंद्र मेघवाल की मौत के बाद प्रदेश की राजनीति गर्मा गई है. मौत के बाद से ही प्रदर्शन लगातार बढ़ते जा रहे हैं. लोगों में छात्र की मौत को लेकर रोष व्याप्त है. साथ ही गोविंद सिंह डोटासरा ने जालोर के सर्किट हाउस में मंगलवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस में कांग्रेस कमेटी की ओर से 20 लाख रुपये देने की घोषणा की.

अधिक पढ़ें ...

श्याम बिश्नोई, जालोर. जालोर जिले के सुराणा में छात्र इंद्र मेघवाल की मौत के मामले को लेकर राजस्थान की राजनीति उफान पर है. प्रदेश के ज्यादातर जिलों में मंगलवार को विरोध-प्रदर्शन देखने को मिला. प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष गोविंद सिंह डोटासरा, आपदा राहत मंत्री गोविन्द राम मेघवाल, सार्वजनिक निर्माण विभाग मंत्री भजनलाल जाटव, महिला एवं बाल विकास मंत्री ममता भूपेश, जालोर के प्रभारी मंत्री अर्जुनसिंह बामणिया, जन अभाव अभियोग निराकरण समिति के अध्यक्ष पुखराज पाराशर सहित बड़ी संख्या में कांग्रेस नेता मंगलवार को गांव में पहुंचे और परिजनों से मुलाकात की.

बाद में, गोविंद सिंह डोटासरा ने जालोर के सर्किट हाउस में प्रेस कॉन्फ्रेंस में कांग्रेस कमेटी की ओर से 20 लाख रुपये देने की घोषणा की. डोटासरा ने यह घोषणा ऐसे समय की है जब राजस्थान के कई संगठन पीड़ित परिवार को 50 लाख का मुआवजा और सरकारी नौकरी देने की मांग कर रहे हैं. मंत्री खिलाड़ीलाल बैरवा ने अपनी ही सरकार पर निशाना साधते हुए पीड़ित परिवार को 50 लाख का मुआवजा और सरकारी नौकरी देने की मांग की थी. उनका कहना था कि मुख्यमंत्री ने 5 लाख का मुआवजा कैसे तय किया.

गौरतलब है कि नौ वर्षीय दलित छात्र इंद्र मेघवाल को 20 जुलाई को स्कूल में कथित रूप से मटके को छूने के आरोप में एक शिक्षक ने पीटा था. उसकी बीते शनिवार को अहमदाबाद के एक अस्पताल में उपचार के दौरान मौत हो गई थी. पुलिस ने आरोपी शिक्षक छैल सिंह को आनन-फानन में गिरफ्तार किया. राज्य सरकार ने पीड़ित परिवार के सदस्यों के लिये पांच लाख रुपये की राहत की घोषणा की थी. डोटासरा ने घटना को दुखद बताते हुए कहा, ‘हम सबके लिए जालोर की घटना चिंताजनक है. शिक्षक के द्वारा मारपीट की घटना दुर्भाग्यपूर्ण है. हम पीड़ित परिवार के संपर्क में हैं. सामाजिक समरसता बनी रहे और कानून अपना काम करे. अपराधी छूटे नहीं और निर्दोष फंसे नहीं.’

पूर्व उपमुख्यमंत्री सचिन पायलट पहुंचे सुराणा
पूर्व डिप्टी सीएम सचिन पायलट भी देर शाम सुराणा गांव पहुंचे. पायलट के साथ 200 गाड़ियों में कई विधायक और कांग्रेस नेता साथ थे. पायलट ने छात्र इंद्र मेघवाल की मौत के मामले को लेकर परिजनों से मुलाकात की. इस दौरान उन्होंने कहा, ‘जालौर जैसी घटनाओं पर हमको हमेशा के लिए अंकुश लगाना होगा. दलित समाज के लोगों को हमको विश्वास दिलाना पड़ेगा कि हम उनके साथ खड़े हैं.’

Tags: Rajasthan news

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर