अपना शहर चुनें

States

आरक्षण हासिल जातियों की मांगों को लेकर 22 अप्रैल को 'मारवाड़ महारैली'

मीन सेना की ओर से आगामी 22 अप्रैल को सुमेरपुर में मारवाड़ महारैली का आयोजन किया जाएगा.
मीन सेना की ओर से आगामी 22 अप्रैल को सुमेरपुर में मारवाड़ महारैली का आयोजन किया जाएगा.

मीन सेना की ओर से आगामी 22 अप्रैल को सुमेरपुर में मारवाड़ महारैली का आयोजन किया जाएगा.

  • Share this:
राजस्थान के जालोर, सिरोही और पाली जिले के आरक्षण हासिल जातियों की 7 मांगों को लेकर 22 अप्रैल को सुमेरपुर में मारवाड़ महारैली का आयोजन किया जा रहा है. एससी, एसटी व ओबीसी वर्ग के लोगों के सामाजिक एवं आर्थिक उत्थान समेत विभिन्न सात सूत्रीय मांगों को लेकर यह रैली मीन सेना कर रही है.

मीन सेना के प्रदेशाध्यक्ष पंकज मीणा ने बुधवार को पत्रकार वार्ता करते हुए कहा कि मारवाड़ क्षेत्र के एससी, एसटी व ओबीसी वर्ग के लोग काफी पिछड़े हुए हैं. सरकारी नौकरियों में इनका चयन नहीं होना इसका मुख्य कारण है. सरकारी नौकरियों की जिलेवार भर्ती में 50 प्रतिशत आरक्षण मारवाड़ के युवाओं को मिले इसी मुख्य मांग को लेकर आगामी 22 अप्रैल को सुमेरपुर में मारवाड़ महारैली का आयोजन किया जाएगा.

उन्होंने कहा कि इसके अलावा मीणा बटालियन पुन: शुरू करवाने, आहोर या सुमेरपुर में एससी-एसटी के छात्रों के लिए आवासीय विद्यालय का निर्माण करवाने, मारवाड़ आदिवासी विकास कल्याण बोर्ड अलग से निर्माण करने, मारवाड़ क्षेत्र की जनता को पानी तथा बिजली की पूर्ण आपूर्ति देने तथा मारवाड़ के किसानों का कर्ज माफ करने तथा उन्हें उचित दर पर खाद्य, उन्नत बीज आदि उपलब्ध करवाने की मांग प्रमुखता से रखी जाएगी.



मीणा ने कहा कि वे पिछले एक साल से आहोर क्षेत्र के गांवों में जाकर वहां के लोगों की समस्याओं का समाधान करवा रहे हैं. उन्होंने बताया कि उनका मुख्य उद्देश्य गरीब एवं पिछड़े लोगों की सेवा करना है. गौरतलब है कि पंकज मीणा ने गत दिनों आहोर में किरोड़ीलाल मीणा के नेतृत्व में महारैली का आयोजन किया था.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज