राजस्थान : जालोर के बोरवेल में गिरे मासूम को निकालने की पहली कोशिश नाकाम, NDRF की टीम पहुंची - देखें वीडियो

बच्चे को बचाने के लिए NDRF की टीम मौके पर पहुंची.

बच्चे को बचाने के लिए NDRF की टीम मौके पर पहुंची.

करीब 30 फिट ऊपर तक मासूम को ले आया गया था. लेकिन फिर वह वहां से नीचे जा गिरा. मौके पर मौजूद लोगों ने बताया कि भीड़ ने ज्यादा तेजी से रस्सा खींच दिया तो मासूम अनिल फिर से बोरवेल में नीचे जा गिरा.

  • Share this:

जालोर. गुजरात से सटे राजस्थान के जालोर जिले (Jalore District) के सांचौर के लाछड़ी गांव में 90 फिट गहरे बोरवेल (Borewell) में फंसे 4 साल के अनिल देवासी को देशी जुगाड़ के जरिए निकालने का पहला प्रयास नाकाम हो गया है. बताया जाता है कि करीब 30 फिट ऊपर तक मासूम को ले आया गया था. लेकिन फिर वह वहां से नीचे जा गिरा. मौके पर मौजूद लोगों ने बताया कि भीड़ ने ज्यादा तेजी से रस्सा खींच दिया तो मासूम अनिल फिर से बोरवेल में नीचे जा गिरा.

एनडीआरएफ की टीम मौके पर पहुंच गई

आपको बता दें कि सांचौर के लाछड़ी में NDRF की टीम पहुंच चुकी है. पिछले 8 घंटे से अनिल देवासी नाम का मासूम बोरवेल में फंसा हुआ है. यह मामला गुजरात से सटे राजस्थान के जालोर जिले का है. जिस बोरवेल में बच्चा गिरा है, उसे 90 फीट गहरा बताया जा रहा है. बच्चे को निकालने के लिए एसडीआरएफ (SDRF) की टीम मौके पर लगी हुई थी, लेकिन संसाधनों की किल्लत में रेस्क्यू ऑपरेशन (Rescue operation) में परेशानी आ रही थी. मौके पर मौजूद लोगों ने बताया कि बोरवेल से मासूम के रोने की आवाज आ रही है. बोरवेल में कैमरा डाला गया है. उसके बाद रस्सी से मासूम के पास पानी की बोतल पहुंचाई गई है. मासूम ने बोरवेल में बोलत से पानी भी पीया है. बोरवेल में ऑक्सीजन भी छोड़ी जा रही है.

बचाने की कोशिशों का देखें वीडियो

Youtube Video

बोरवेल के अंदर झांक रहा था अनिल

यह बोरवेल नगाराम देवासी के खेत में है. बोरवेल को लोहे की तगारी से ढका गया था. सुबह करीब 10:15 बजे नगाराम के चार वर्ष का बेटा अनिल खेलते हुए बोरवेल के अंदर से देखने की कोशिश करने लगा. इसी दौरान संतुलन बिगड़ने से वह बोरवेल में जा गिरा. पास ही खड़े एक परिजन अनिल को बोरवेल में गिरते देखकर जोर से चिल्लाया. लेकिन तब तक काफी देर हो चुकी थी.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज