जालोर में उम्र बढ़ाकर लड़ा सरपंच चुनाव, 19 की जगह 22 वर्ष बताई उम्र
Jalore News in Hindi

जालोर में उम्र बढ़ाकर लड़ा सरपंच चुनाव, 19 की जगह 22 वर्ष बताई उम्र
चाटवाड़ा ग्राम पंचायत में जन्म की तिथि में फर्जीवाड़ा कर चुनाव लड़कर सरपंच बनने का मामला सामने आया है.

रानीवाड़ा (Raniwada) पंचायत समिति के चाटवाड़ा ग्राम पंचायत में जन्म की तिथि में फर्जीवाड़ा कर चुनाव लड़कर सरपंच (Sarpanch) बनने का मामला सामने आया है.

  • Share this:
जालोर. पिछले पंचायती राज चुनाव (Panchayati Raj Election) में जिले में कई सरपंचों ने आठवीं पास की फर्जी टीसी बनाकर चुनाव लड़ लिया था. इसके चलते कई सरपंचों को बर्खास्त किया गया था. हालांकि, इस बार भी पंचायती राज चुनाव 2020 के दौरान अब तक जिले में रानीवाड़ा, भीनमाल, सायला व आहोर में संपन्न हुए चुनाव में उम्र (False Age) को लेकर गड़बड़झाला सामने आया है. रानीवाड़ा (Raniwada) पंचायत समिति के चाटवाड़ा ग्राम पंचायत में जन्म की तिथि में फर्जीवाड़ा कर चुनाव लड़कर सरपंच बनने का मामला सामने आया है.

सरपंच की वास्तविक उम्र 19 है

गौरतलब है कि सरपंच प्रत्याशी के नामांकन के दौरान 19 वर्षीय महेश देवासी ने जन्म तिथि में छेड़छाड़ करते हुए नामांकन के दौरान खुद की उम्र 22 वर्ष बताई है. अब ग्रामीणों ने भी इसको लेकर कलेक्टर से शिकायत की है. चुनाव आयोग की गाइडलाइन के अनुसार सरपंच पद के लिए 21 वर्ष की आयु निर्धारित की गई है. ऐसे में सरपंच ने दस्तावेजों में छेड़छाड़ कर अपनी आयु बढ़ाकर फर्जी शपथ पत्र के आधार पर चुनाव लड़ा है.



सरपंच ने दस्तावेज में छेड़छाड़ करके अपनी उम्र बढ़ा दी
ग्रामीणों ने जब सूचना के अधिकार के तहत सभी विद्यालय दस्तावेजों की कॉपी मांगी तो इस मामले का खुलासा हुआ है. महेश देवासी की उम्र 19 वर्ष ही साबित हो रही है जबकि पेश किए गए शपथपत्र में आयु 22 वर्ष बताई गई है.

(जालोर से हरिपाल की रिपोर्ट)

यह भी पढ़ें: सरिस्का में हिरन के बच्चे के साथ काफी देर तक खेलता रहा पैंथर

ACB की कार्रवाई से हिल उठा परिवहन विभाग, जद में आए ये अधिकारी रहे हैं चर्चित
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading