अपना शहर चुनें

States

जालोर में उड़ रहे विमान के रहस्य से उठा पर्दा

जमीन के अंदर खनिज पदार्थों के सर्वे के लिए उठ रहा था विमान.
जमीन के अंदर खनिज पदार्थों के सर्वे के लिए उठ रहा था विमान.

जालोर जिले के सांचौर और चितलवाना उपखंड क्षेत्र में पिछले तीन दिनों से आसमान में एक छोटा विमान उड़ता हुआ दिखाई दे रहा था. इस विमान को लेकर क्षेत्रवासियों असमंजस की स्थिती में थे.

  • Share this:
जालोर जिले के सांचौर और चितलवाना उपखंड क्षेत्र में पिछले तीन दिनों से आसमान में एक छोटा विमान उड़ता हुआ दिखाई दे रहा था. इस विमान को लेकर क्षेत्रवासियों असमंजस की स्थिती में थे.

सोशल मीडिया पर भी इस छोटे से विमान को लेकर काफी चर्चा हो रही थी. कुछ लोग इसे पड़ोसी देश पाकिस्तान की करतूत बता रहे थे. चितलवाना में भी तीन दिन से चक्कर लगा रहा प्लेन लोगों में चर्चा का विषय बन चुका था.

विमान के रहस्य से पर्दा उठाते हुए प्रशासन ने बताया कि यह विमान पाकिस्तान की करतूत नहीं है, बल्कि यह विमान जालोर में जमीन के नीचे स्थित खनिज संपदा को तलाशने के लिए हवाई सर्वे शुरू किया गया है, जिसको लेकर विमान पिछले तीन दिनों से उड़ रहा है.



यह सर्वे न्यूजीलैंड की एक निजी कंपनी कर रही है. जून माह के दौरान ऐसा ही सर्वे पाली जिले में किया गया. जिसके बाद बारिश का मौसम आ जाने के बाद सर्वे बंद हो गया था. मानसून खत्म होने के बाद एक बार फिर अब सर्वे शुरू हो गया है और जालोर जिले में किया जा रहा है.
क्षेत्र में हवाई सर्वे से यहां की पहाड़ियों, मिट्टी और अन्य भौगोलिक संरचना की जानकारी एत्रित की जाएंगी. यह सर्व कुल 59 हजार वर्ग किलोमीटर में सर्वे किया जायेगा. जो जालोर, सिरोही, पाली और बाड़मेर में सर्वे होगा.

सर्वे करने के लिए कंपनी ने प्रशासन से प्रमिशन भी ली हुई है. बताया जा रहा है यह विमान मानव रहित है जिसे रिमोट के माध्यम से कट्रोल किया जा रहा है इसमेें सेंसर लगा हुआ है. यह विमान जमीन में अंदर क्या-क्या है उसकी जानकारी जुटाएगा.

(जालोर से हरिपाल सिंह की रिपोर्ट)
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज