होम /न्यूज /राजस्थान /'संगठन से बड़ा कोई नहीं', भारत जोड़ो यात्रा के बीच जयराम रमेश का बयान, जानें किस ओर किया इशारा

'संगठन से बड़ा कोई नहीं', भारत जोड़ो यात्रा के बीच जयराम रमेश का बयान, जानें किस ओर किया इशारा

कांग्रेस नेता जयराम रमेश ने राजस्थान में भारत जोड़ो यात्रा के बीच दिया बड़ा बयान. (फाइल फोटो)

कांग्रेस नेता जयराम रमेश ने राजस्थान में भारत जोड़ो यात्रा के बीच दिया बड़ा बयान. (फाइल फोटो)

Rajasthan Politics: राजस्थान में मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और सचिन पायलट के बीच चल रही सियासी रस्साकशी के बीच कांग्रेस नेत ...अधिक पढ़ें

हाइलाइट्स

मुख्यमंत्री अशोक गलहोत और सचिन पायलट के बीच सत्ता की रस्साकशी
जयराम रमेश बोले- पार्टी नेतृत्व निकाल लेगी कोई रास्ता
राहुल गांधी के भारत जोड़ो यात्रा के बीच कांग्रेस नेता का बड़ा बयान

झालावाड़. कांग्रेस के वरिष्ठ नेता जयराम रमेश ने कहा कि संगठन को सर्वोपरि रखते हुए पार्टी नेतृत्व राज्य में आपसी खींचतान का समाधान करने के लिए रास्ता निकाल लेगा. राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गलहोत और पूर्व उपमुख्यमंत्री सचिन पायलट के बीच सत्ता की रस्साकशी का सामना प्रदेश में सत्तारूढ़ दल कांग्रेस को करना पड़ रहा है. इस बीच, कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी के नेतृत्व में राजस्थान से गुजर रही भारत जोड़ो यात्रा के मद्देनजर गहलोत और पायलट ने पार्टी के लिए प्रदेश में एकजुटता प्रदर्शित की है.

जयराम रमेश ने कहा कि यात्रा की समाप्ति के बाद राजस्थान में चुनावी प्रक्रिया शुरू हो जाएगी और राज्य में विधानसभा चुनाव में केवल 7-8 महीने का समय बचा है. झालावाड़ जिले के सुकेत से देवरीघाटा के रास्ते में कांग्रेस नेता जयराम रमेश ने बातचीत में कहा, ‘मुझे किसी व्यक्ति के बारे में जानकारी नहीं है, लेकिन पार्टी नेतृत्व कोई ऐसा रास्ता निकाल लेगा, जिससे संगठन सर्वोपरि बना रहे न कि कोई व्यक्ति.’

कांग्रेस नेता जयराम रमेश ने दिया बड़ा बयान

जयराम रमेश ने कहा कि किसी व्यक्ति की श्रेष्ठता महत्वपूर्ण नहीं है और एकमात्र उद्देश्य संगठन को मजबूत करने का रास्ता खोजना है. पूर्व केंद्रीय मंत्री ने कहा कि वह कई बार दोहरा चुके हैं कि पार्टी और संगठन ही सर्वोपरि है. मालूम हो कि राजस्थान के पूर्व उपमुख्यमंत्री सचिन पायलट तथा कांग्रेस के 18 अन्य विधायकों ने जुलाई 2020 में मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के खिलाफ बगावत की थी. उसके बाद प्रदेश में पैदा हुए राजनीतिक संकट के दौरान गहलोत ने पायलट के लिए ‘नकारा’ और ‘निकम्मा’ शब्दों का इस्तेमाल किया था.

ये भी पढ़ें: राजस्थान में कैसे निपटेगा गहलोत और पायलट का नेतृत्व विवाद? जयराम रमेश का खुलासा

कांग्रेस की प्रदेश इकाई में गुटबाजी के बारे में पूछे जाने पर पार्टी महासचिच जयराम रमेश ने कहा कि कांग्रेस पिछले 137 साल से गुटों की पार्टी रही है, लेकिन इसके सदस्यों का पार्टी के सिद्धांतों में विश्वास रहा है. उन्होंने कहा कि 1980 के दशक में राजस्थान में हरिदेव जोशी, शिवचरण माथुर और नवल किशोर शर्मा थे, जिनके अपने-अपने धड़े थे. भाजपा और माकपा की तरह कांग्रेस कैडर आधारित पार्टी नहीं है. उन्होंने कहा कि न केवल राजस्थान बल्कि अन्य राज्यों में भी संगठन स्तर पर पद खाली हैं, जिन्हें समयबद्ध तरीके से भरा जाएगा. कांग्रेस का पूर्ण अधिवेशन फरवरी के तीसरे सप्ताह में प्रस्तावित है और मुझे लगता है कि इसके पहले इन पदों पर नियुक्तियां हो जाएंगी.

Tags: Ashok Gehlot Vs Sachin Pilot, Bharat Jodo Yatra, Congress News, Jairam ramesh, Rajasthan news

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें