लाइव टीवी

पिता की अर्थी को दिया पांच बेटियों ने कंधा, मुखाग्नि देकर निभाया बेटे का फर्ज
Jhunjhunu News in Hindi

Imtiyaz Bhati | News18 Rajasthan
Updated: January 8, 2020, 5:09 PM IST
पिता की अर्थी को दिया पांच बेटियों ने कंधा, मुखाग्नि देकर निभाया बेटे का फर्ज
झुंझुनूं में पिता की अर्थी को कंधा देती पांचों बेटी

भारतीय संस्कृति के मुताबिक घर पर किसी की मृत्यु होने पर उसकी अर्थी को पुरूष ही कंधा देते है. समाज के इसी मिथक को तोड़ते हुए झुंझुनूं के बास गांव में जब बेटियों ने अपने पिता के निधन पर अर्थी को कंधा दिया तो हर किसी की आंख नम हो गई.

  • Share this:
झुंझुनूं. राजस्थान के झुंझुनूं (Jhunjhunu) जिले के सहड़ का बास गांव में पांच बेटियों (daughters) ने अपने पिता की अर्थी (funeral) को कंधा दिया. बड़ी बेटी ने पिता की चिता को मुखाग्नि दी. गांव के नागरमल हवलदार का मंगलवार को निधन (death) हो गया था और उनका कोई पुत्र नहीं है बल्कि पांच बेटियां थी. पांचों बेटियां गांव के लोगों के साथ पिता की शव यात्रा में शामिल होकर श्मशान घाट पहुंचीं और अंतिम संस्कार की सारी परंपराओं का निर्वहन किया.

बेटियों ने पिता की अर्थी को दिया कंधा, मुखाग्नि भी दी

भारतीय संस्कृति के मुताबिक घर पर किसी की मृत्यु होने पर उसकी अर्थी को पुरूष ही कंधा देते है. समाज के इसी मिथक को तोड़ते हुए झुंझुनूं के बास गांव में जब बेटियों ने अपने पिता के निधन पर अर्थी को कंधा दिया तो हर किसी की आंख नम हो गई. बास गांव के निवासी नागरमल हवलदार का निधन होने पर उनकी पांचों बेटियों ने अर्थी को कंधा देकर बेटों का फर्ज निभाया. श्मशान में जब बड़ी बेटी ने पिता को मुखाग्नि दी तो वहां मौजूद लोगों की आंखें भर आई.



श्मशान घाट में बड़ी बेटी ने पिता को दी मुखाग्नि
श्मशान घाट में बड़ी बेटी ने पिता को दी मुखाग्नि




16 साल पहले हो गई थी इकलौते बेटे की हत्या

बता दें कि नागरमल हवलदार के इकलौते बेटे की हत्या करीब 16 साल पहले हो गई थी. इसके बाद नागरमल हवलदार की केवल पांच बेटियां ही बची थीं, जिनकी भी शादी हो गई,  लेकिन शादी के बाद भी बेटियों ने अपने पिता की सेवा करने में कोई कोर कसर नहीं छोड़ी. पिता की सेवा करने में उनका साथ उनके पति ने भी दिया. मंगलवार रात को नागरमल हवलदार ने अंतिम सांस ली, जिसके बाद भी बेटियों ने बेटे के समान अपना धर्म निभाया और अंतिम संस्कार की सारी परंपराओं का निर्वहन किया. इस मौके पर बेटियों ने कहा कि उनके पिता ने कभी उन्हें बेटी नहीं, बल्कि बेटा ही माना था.

यह भी पढ़ें- कोटा के अस्पताल में बच्चों की मौत के पीछे घटिया चाइनीज इक्विपमेंट- चिकित्सा मंत्री

यह भी पढ़ें- जयपुर: निर्माणाधीन इमारत में लगी आग, दम घुटने से तीन मजदूरों की हुई मौत

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए झुंझुनूं से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 8, 2020, 4:23 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading