लाइव टीवी

पति-पत्नी के काम आई जज की ये सलाह, बोले- अब नहीं लड़ेंगे, जीवन भर रहेंगे साथ

ETV Rajasthan
Updated: April 8, 2017, 4:49 PM IST
पति-पत्नी के काम आई जज की ये सलाह, बोले- अब नहीं लड़ेंगे, जीवन भर रहेंगे साथ
फोटो-(ईटीवी)

पूरे देश में राष्ट्रीय लोक अदालत में हजारों-लाखों मामले आपसी समझाइश से सुलटाए जा रहे हैं, जिनमें कई ऐसे मामले भी सामने आ रहे है जो नाम मात्र की लड़ाई से शुरू हुए और सालों से कोर्ट में चल रहे हैं.

  • Share this:
पूरे देश में राष्ट्रीय लोक अदालत में हजारों-लाखों मामले आपसी समझाइश से सुलटाए जा रहे हैं, जिनमें कई ऐसे मामले भी सामने आ रहे है जो नाम मात्र की लड़ाई से शुरू हुए और सालों से कोर्ट में चल रहे हैं.

ऐसा ही एक मामला झुंझुनूं में भी सामने आया है, जहां पर लोक अदालत के चलते सालों से कोर्ट की लड़ाई में फंसी पति-पत्नी की जिंदगी अब फिर से गुलजार होने वाली है. वहीं उनके बच्चों को भी पापा-मम्मी का प्यार एक साथ मिलने वाला है.

दरअसल, उदयपुरवाटी के सराय में रहने वाले सुभाष की शादी हरियाणा की नीमा के साथ हुई थी. शादी के बाद से ही नीमा और सुभाष में अनबन होने लगी. नीमा को सुभाष ने कई बार घर से निकाल दिया. वहीं नीमा ने हरियाणा में दहेज प्रताड़ना का मामला दर्ज कराया, जिसमें सुभाष को जेल भी हो गई. इसके बाद पंचायत बैठी और नीमा फिर से अपने ससुराल चली गई, लेकिन सुभाष ने फिर नीमा को घर से निकाल दिया.

करीब पांच सालों से नीमा और सुभाष दूर-दूर रह रहे थे. यही कारण है कि दोनों के दो बेटे भी अपने पापा से दूर थे, लेकिन पारिवारिक न्यायालय के जज सोहनलाल शर्मा ने दोनों को समझाया और बताया कि छोटे मोटे झगड़ों को यदि कोर्ट में लाया जाए तो यह ठीक नही.

उन्होंने पति-पत्नी को एक रथ के दो पहिए बताए और कहा कि ये दोनों अलग-अलग होंगे तो जिंदगी नहीं चल सकती. साथ ही बच्चों का भविष्य भी खराब होता है. जज सोहनलाल शर्मा की इस बात को मानते हुए दोनों ने साथ-साथ रहने का निर्णय लिया. इस मौके पर दोनों ने एक दूसरे को माला पहनाई तो मौजूद लोगों ने फूल बरसाकर नई जिंदगी की शुभकामनाएं दीं.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए झुंझुनूं से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: April 8, 2017, 4:49 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर