लाइव टीवी

थाने में पहुंचते ही महिला की हुई मौत, सुसाइड नोट में लिखा-पति सहित 8 लोगों को देना फांसी

Imtiyaz Bhati | News18 Rajasthan
Updated: May 28, 2019, 4:32 PM IST
थाने में पहुंचते ही महिला की हुई मौत, सुसाइड नोट में लिखा-पति सहित 8 लोगों को देना फांसी
सांकेतिक तस्वीर

मामले की सूचना मिलते ही पूरे पुलिस महकमे में खलबली मच गई. विवाहिता बाहर से ही जहर खाकर महिला थाने पहुंची थी.

  • Share this:
झुंझुनूं महिला पुलिस थाना परिसर में एक विवाहिता के जहर खाकर आत्महत्या करने का मामला सामने आया है. मामले की सूचना मिलते ही पूरे पुलिस महकमे में खलबली मच गई. पता चला कि विवाहिता बाहर से ही जहर खाकर महिला थाने पहुंची थी. मृतका के पास से दो पेज का एक सुसाईड नोट भी मिला है, जिसमें उसने पति, सास-ससुर समेत आठ लोगों को मौत का जिम्मेदार ठहराया गया है.

जानकारी के मुताबिक कुहाड़वास निवासी मीना कुमारी सुबह लगभग पौने बारह बजे जहर खाकर महिला पुलिस थाने पहुंची और थाना परिसर में गिर गई. सूचना पर संबंधित महिला पुलिसकर्मियों के सहयोग से गंभीर हालत में उसे बीडीके अस्पताल लाया गया. जांच में सामने आया कि विवाहिता ने सल्फास की गोलियां खा रखी है. यहां इलाज के दौरान विवाहिता ने दम तोड़ दिया.

सुसाइड नोट बरामद-

महिला थाना प्रभारी केपी सिंह ने बताया कि घटनास्थल पर मृतका के पास से एक सुसाईड नोट बरामद हुआ है. जिसमें आठ लोगों को मौत का जिम्मेदार ठहराया गया है. मृतका के पिता सहीराम ने बताया कि मीना की 7 दिसंबर 2015 में रामकिशन के साथ शादी हुई थी. शादी के बाद से रामकिशन मीना को दहेज के लिए प्रताड़ित करता था तथा मारपीट करता था. साथ ही मीना एक प्राइवेट जॉब भी करती थी. जिसको लेकर ससुराल वाले उसे नौकरी छोड़ने का भी दबाव डालते थे.

हो चुका था समझौता-

मृतका के पिता सहीराम ने बताया कि मृतका मीना और रामकिशन के बीच महिला सलाहाकार में समझौता हुआ था. बावजूद रामकिशन उसे प्रताड़ित करता रहता था. परेशान होकर मीना ने 2017 में पति रामकिशन पर दहेज प्रताड़ित व भरण पोषण का मामला दर्ज करवा दिया था. रामकिशन तारीखों पर कोर्ट में पेश नहीं होता था.

झूठ बोलकर शादी करने आरोप-
Loading...

मृतका के पिता सहीराम का आरोप है कि ससुराल पक्ष के लोगों ने झूठ बोलकर शादी की थी. ससुराल पक्ष के लोगों ने शादी के दौरान रामकिशन को बीटेक किया हुआ बताया था. वहीं अजीतगढ़ स्थित एक निजी आइटीआइ में प्रिंसिपल के पद पर काम करने की जानकारी दी. इसके बाद झांसे में आकर उन्होंने बेटी की शादी कर दी. पिता ने बताया कि शादी के बाद छानबीन करने पर पता चला कि रिश्तेदार के नाम पर प्रिंसिपल बना बैठा हुआ था.

ये भी पढ़ें-जोधपुर हाईकोर्ट ने नहीं दी नाबालिग को गर्भपात की अनुमति, 26 सप्ताह का है गर्भ

ये भी पढ़ें-VIDEO: मंदिर का ताला तोड़ा..चांदी का छत्र और दान पेटी लेकर हुआ फरार

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए झुंझुनूं से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: May 27, 2019, 7:29 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...