Jodhpur News: सलमान खान का घोड़ा बेचने के नाम पर महिला से 12 लाख की ठगी, हाई कोर्ट ने दिये जांच के आदेश

महिला का आरोप है कि सलमान के साथ एक घोड़े की फोटो दिखाकर उससे 12 रुपये ऐंठ लिये गये.

महिला का आरोप है कि सलमान के साथ एक घोड़े की फोटो दिखाकर उससे 12 रुपये ऐंठ लिये गये.

फिल्म स्टार सलमान खान (Salman Khan) जोधपुर में एक बार चर्चा में है. इस बार सलमान अपने केस को लेकर नहीं बल्कि उनके नाम से एक महिला से की गई धोखाधड़ी (Fraud) को लेकर चर्चा का विषय बने हुये हैं.

  • Share this:
जोधपुर. बॉलीवुड स्टार सलमान खान (Salman Khan) का मानो जोधपुर और विवादों (Jodhpur and disputes) से गहरा नाता जुड़ा हुआ है. यहां एक के बाद एक सलमान से जुड़े विवाद सामने आते जा रहे हैं. सलमान एक बार फिर जोधपुर में सुर्खियों में बने हुये हैं. इस बार मामला सीधे उनसे नहीं जुड़ा है, लेकिन इस मामले से उनका नाम जुड़ा है. यहां एक महिला को सलमान खान का घोड़ा (Horse) बेचने के नाम पर उसके साथ लाखों की धोखाधड़ी की गई.

आरोपियों ने इस महिला को सलमान खान का घोड़ा बेचने की बात कर उससे यह ठगी की. मामले की थाने में एफआईआर दर्ज होने के बादजूद कोई कार्रवाई नहीं होने से आहत पीड़िता ने हाईकोर्ट में गुहार लगाई थी. अब हाई कोर्ट ने जोधपुर पुलिस अधीक्षक को मामले की निष्पक्ष जांच कर रिपोर्ट पेश करने के आदेश दिये हैं. महिला का आरोप है कि सलमान के साथ एक घोड़े की फोटो दिखाकर उससे 12 रुपये ऐंठ लिये गये.

यह है पूरा मामला

जानकारी के अनुसार धोखाधड़ी की शिकार हुई पीड़िता घाचियों की ढाणी सांगरिया निवासी संतोष भाटी है. उसका आरोप है कि निर्भय सिंह, राजप्रीत और अन्य ने उसके साथ एक घोड़े का सौदा किया था. आरोपियों ने उसे वह घोड़ा फिल्म अभिनेता सलमान खान का बताया. इसके लिये उन्होंने सलमान के साथ घोड़े की फोटो दिखाई. आरोपियों ने उससे इस घोड़े के लिये 12 लाख रुपये में सौदा किया था. इसके लिये 11 लाख रुपये चैक और 1 लाख रुपये कैश लिये थे. लेकिन घोड़ा नहीं दिया.
आरोपियों ने यह दिया झांसा

आरोपियों ने महिला को झांसा दिया वे सलमान खान के परिचित हैं. वे सलमान को घोड़े बेचते रहते हैं. लेकिन सलमान खान को अपना यह घोड़ा बेचना है. आप इस घोड़े को लेकर आगे बेचेंगी तो आपको लाखों का फायदा होगा. पीड़िता का आरोप है कि मामला हाई प्रोफाइल होने से पुलिस इसकी स्वतंत्र और निष्पक्ष जांच नहीं कर रही है.

आपराधिक विविध एकलपीठ याचिका प्रस्तुत की थी



पीड़िता के अधिवक्ता प्रवीण दयाल दवे ने बताया कि पीड़िता ने जोधपुर के कुड़ी भगतासनी थाने में दर्ज एफआईआर संख्या 0018/2021 में स्वतंत्र और निष्पक्ष जांच न करने पर राजस्थान उच्च न्यायालय जोधपुर के समक्ष आपराधिक विविध एकलपीठ याचिका प्रस्तुत की थी. हाईकोर्ट जस्टिस पुष्पेंद्र सिंह भाटी ने याचिका पर सुनवाई कर संबंधित पुलिस अधीक्षक को मामले की निष्पक्ष जांच कर रिपोर्ट प्रस्तुत करने के आदेश दिये हैं. पीड़िता की ओर से कोर्ट में अधिवक्ता प्रवीण दयाल दवे के साथ रुचि परिहार व शैलेंद्र चौहान भी उपस्थित रहे.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज