• Home
  • »
  • News
  • »
  • rajasthan
  • »
  • जोधपुर के 3 भाई बहिन पाकिस्तान पर पड़े भारी, मार्शल आर्ट में जीते गोल्ड मेडल

जोधपुर के 3 भाई बहिन पाकिस्तान पर पड़े भारी, मार्शल आर्ट में जीते गोल्ड मेडल

शिवराज, युवराज और उनकी बहन प्रिया स्पोर्ट्स के साथ अपना करियर सेना में शामिल होकर आगे बढ़ना चाहते हैं.

शिवराज, युवराज और उनकी बहन प्रिया स्पोर्ट्स के साथ अपना करियर सेना में शामिल होकर आगे बढ़ना चाहते हैं.

India Vs Pakistan: राजस्थान के जोधपुर के तीन भाई-बहिन ने नेपाल में आयोजित मार्शल आर्ट इंटरनेशनल चेम्पियनशिप (Martial Arts International Championship) में पाकिस्तान को हराकर गोल्ड मेडल जीता है.

  • Share this:
जोधपुर. सूर्यनगरी जोधपुर शहर (Jodhpur) के तीन खिलाड़ियों ने मार्शल आर्ट इंटरनेशनल चेम्पियनशिप (Martial Arts International Championship) में पाकिस्तान को हराकर गोल्ड मेडल जीता है. खास बात यह है कि तीनों खिलाड़ी सगे भाई बहिन हैं और एक साथ इंटरनेशनल चेम्पियनशिप में पाकिस्तान (Pakistan) को हराकर गोल्ड मेडल जीत कर लाए हैं. सनसिटी के बनाड़ क्षेत्र में रहने वाले शिवराज और युवराज जुड़वा भाई हैं. उनके साथ ही उनकी बहन प्रिया ने भी स्पोर्ट्स को अपना करियर बनाया है. शिवराज और युवराज ने पहले ताइक्वांडो से करियर की शुरुआत की और फिर मार्शल आर्ट सीखी . वहीं बहिन प्रिया ने जिम्नास्टिक से करियर की शुरुआत की थी.

इस चेम्पियनप का आयोजन पिछले दिनों 10 से 12 जुलाई को नेपाल के काठमांडू में हुआ था. जोमासार स्पोर्ट्स क्लब व साउथ एशियन फेडरेशन ऑफ ऑल इंडिया स्पोर्ट्स की ओर से इस अंतरराष्ट्रीय प्रतियोगिता का आयोजन किया गया था. तीनों भाई बहिन ने पहले नेशनल चेम्पियनशिप खेलकर गोल्ड जीता और फिर इंटरनेशनल चेम्पियनशिप के लिए अपना चयन पक्का किया. उसके बाद तीनों ने मार्शल आर्ट इंटरनेशनल चेम्पियनशिप के अलग-अलग भार वर्ग में पहले नेपाल को हराकर फाइनल में प्रवेश किया. उसके बाद तीनों ने उन्हीं श्रेणियों में पाकिस्तान को हराकर गोल्ड मेडल अपने नाम किये. होनहारों की इस सफलता पर स्थानीय वाशिंदों ने उनका जोरदार स्वागत किया.

लॉकडाउन से प्रैक्टिस प्रभावित हुई लेकिन हार नहीं मानी
तीनों भाई बहिन इंटरनेशनल चैम्पियनशिप के लिए कड़ी तैयारी कर रहे थे. कोरोना संक्रमण काल में लॉकडाउन की वजह से प्रैक्टिस प्रभावित हो गई. लेकिन तीनों भाई बहिन ने हिम्मत नहीं हारी. वे घर के पास ही डिगाडी कस्बे में बने ग्राउंड में मेहनत करते रहे. शिवराज ने बताया कि नेपाल में पाकिस्तान के खिलाफ खेलते समय थोड़ा दबाव महसूस हो रहा था. लेकिन आत्मविश्वास से खेलकर गोल्ड मेडल जीत लिया.

तीनों का इंडियन आर्मी में अफसर बनने का है सपना
शिवराज, युवराज और उनकी बहन प्रिया स्पोर्ट्स के साथ अपना करियर सेना में शामिल होकर आगे बढ़ना चाहते हैं. तीनो भाई बहिन भारतीय सेना में अफसर बन देश की सेवा करना चाहते हैं. इसके साथ ही वहां रहकर खेल में जलवा दिखाना चाहते हैं.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

विज्ञापन