तृतीय श्रेणी शिक्षक भर्ती परीक्षा में एक अंक वंचित रहा तो युवक ने लगाई फांसी

जोधपुर जिले में दिल दहला देने वाली खबर सामने आई है. जिले के चाखू थाना इलाके में एक युवक ने महज इसलिए फांसी लगाकर अपनी जान दे दी, क्योंकि वह एक अंक से तृतीय श्रेणी शिक्षक भर्ती परीक्षा में चयनित होने से वंचित रह गया था.

News18 Rajasthan
Updated: May 15, 2019, 10:36 AM IST
तृतीय श्रेणी शिक्षक भर्ती परीक्षा में एक अंक वंचित रहा तो युवक ने लगाई फांसी
फोटो : न्यूज 18 राजस्थान ।
News18 Rajasthan
Updated: May 15, 2019, 10:36 AM IST
जोधपुर जिले में दिल दहला देने वाली खबर सामने आई है. जिले के फलौदी इलाके के चाखू थाना इलाके में एक युवक ने महज इसलिए फांसी लगाकर अपनी जान दे दी, क्योंकि वह एक अंक से तृतीय श्रेणी शिक्षक भर्ती परीक्षा में चयनित होने से वंचित रह गया था. घटना के बाद युवक के घर में कोहराम मच गया. पुलिस ने मौके पर पहुंचकर शव को स्थानीय अस्पताल की मोर्चरी में रखवाया है.

अलवर गैंगरेप केस- वारदात को अंजाम देने वाले आरोपी करते हैं ये काम



जानकारी के अनुसार आत्महत्या करने वाला युवक भींयाराम (28) ओबीसी वर्ग का था. वह चिमाणा के रामू की ढाणी का रहने वाला था. उसने मंगलवार शाम को घर के पास ही स्थित खेजड़ी के पेड़ पर फांसी का फंदा बनाकर आत्महत्या कर ली. उसको फंदे पर झूलता देखकर परिजनों के पैरों तले से जमीन खिसक गई. सूचना पर चाखू पुलिस मौके पर पहुंची और शव को उतरवाकर बाप कस्बे के राजकीय अस्पताल की मोर्चरी में रखवाया. बुधवार को शव को पोस्टमार्टम करवाया जाएगा.

अलवर गैंगरेप केस का वीडियो फेसबुक पर अपलोड होने से मचा हड़कंप, मामला दर्ज

कुछ समय पहले ही हुई थी शादी
प्रारंभिक जांच पड़ताल में सामने आया कि भींयाराम हाल ही में तृतीय श्रेणी शिक्षक भर्ती में एक अंक से चयनित होने से वंचित रह गया था. इससे वह अवसाद में आ गया. भींयाराम की कुछ समय पहले ही शादी हुई थी.

अलवर गैंगरेप केस- दौसा में प्रदर्शनकारियों और पुलिस में झड़प, लाठीचार्ज, पथराव
Loading...

अलवर गैंगरेप केस- सभी आरोपी फिर से तीन दिन के पुलिस रिमांड पर

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...