रिश्वतखोर एडीएम को मिली हाईकोर्ट से राहत, कोर्ट ने स्वीकार की जमानत अर्जी

राजस्थान हाईकोर्ट ने बीती अप्रैल में दस हजार की रिश्वत लेते हुए रंगे हाथों गिरफ्तार हुए आरएएस अधिकारी एडीएम तृतीय विजयसिंह नाहटा को राहत दी है.

Chandra Shekhar Vyas | News18 Rajasthan
Updated: May 27, 2019, 2:58 PM IST
रिश्वतखोर एडीएम को मिली हाईकोर्ट से राहत, कोर्ट ने स्वीकार की जमानत अर्जी
रिश्वतखोर एडीएम को मिली हाईकोर्ट से राहत, कोर्ट ने स्वीकार की जमानत अर्जी
Chandra Shekhar Vyas | News18 Rajasthan
Updated: May 27, 2019, 2:58 PM IST
राजस्थान हाईकोर्ट ने बीती अप्रैल में दस हजार की रिश्वत लेते हुए रंगे हाथों गिरफ्तार हुए आरएएस अधिकारी एडीएम तृतीय  विजयसिंह नाहटा को राहत दी है. एक माह से अधिक समय बाद सोमवार को नाहटा को कोर्ट ने जमानत दे दी. जस्टिस विजय विश्नोई की अदालत में नाहटा की जमानत अर्जी पर सुनवाई के बाद उन्हें जमानत दी गई है.

दरअसल एसीबी ने 18 अप्रैल की दोपहर जोधपुर के एडीएम तृतीय आरएएस अधिकारी विजय सिंह नाहटा को दस हजार रुपए की रिश्वत लेते रंगे हाथों पकड़ा था. जोधपुर कलेक्ट्रेट में किसी अधिकारी के इस तरह रिश्वत लेते पकड़े जाने का यह पहला मामला था और डांगियावास थाना क्षेत्र के निवासी पप्पू दास ने एसीबी में शिकायत दर्ज कराई.



शिकायत में कहा गया था  कि पत्थरगढ़ी का काम करने के लिए पीपाड़ तहसीलदार को आदेश देने के लिए नाहटा ने दस हजार रुपए की मांग की थी. शिकायत का सत्यापन होने पर एसीबी के अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक नरेन्द्र चौधरी ने कलेक्ट्रेट में एडीएम तृतीय के कार्यालय में नाहटा को दस हजार रुपए थमाते हुए गिरफ्तार कर लिया और वहां पहले से तैयार एसीबी की टीम ने उन्हें दबोच लिया था. वहीं नाहटा की संपतियों की पड़ताल में एसीबी को कोई बडी कामयाबी नहीं मिली.

यह भी पढ़ें-राजस्थान हाईकोर्ट को मिले दो नए जज, मुख्य न्यायाधीश ने दिलाई शपथ

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पास. सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी WhatsApp अपडेट्स
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...