अपना शहर चुनें

States

जोधपुर: 18 साल बाद बाल विवाह की बेड़ियों से मुक्त हुई बालिका वधू नींबू, कोर्ट ने शादी को शून्य घोषित किया

जब नींबू का विवाह हुआ तब उसकी उम्र 2 साल और दूल्हे की उम्र महज 6 साल की थी.
जब नींबू का विवाह हुआ तब उसकी उम्र 2 साल और दूल्हे की उम्र महज 6 साल की थी.

जोधपुर में पारिवारिक न्यायालय (Family court) ने एक बालिका के 18 साल पहले हुये बाल विवाह (Child marriage) को शून्य घोषित कर उसे कुप्रथा की बेड़ियों से मुक्त कर दिया है.

  • Share this:
जोधपुर. सनसिटी जोधपुर में 18 साल पहले हुए एक बाल विवाह (Child marriage) को कोर्ट ने शून्य घोषित कर बालिका वधू को न्याय (justice) दिया है. कोर्ट ने बालिका वधू के बाल विवाह को निरस्त कर रूढ़िवादी प्रथाओं (Conservative practices) को कड़ा संदेश दिया है. इस बालिका का विवाह महज 2 साल की उम्र में हो गया था. बाल विवाह शून्य होने के बाद अब यह बालिका वधू पुलिस अफसर बन अन्य बेटियों को न्याय दिलाना चाहती है.

यह कहानी है जोधपुर जिले के बाप तहसील स्थित चिमाना गांव की रहने वाली नींबू की. उसका विवाह मई 2002 में बीकानेर जिले के रहने वाले एक बच्चे के साथ कर दिया गया. जब नींबू का विवाह हुआ था तब उसकी उम्र 2 साल और दूल्हे की उम्र महज 6 साल की थी. पढ़ाई पूरी करने के बाद नींबू को बाल विवाह को स्वीकार करने को मजबूर किया गया. लेकिन वह कानूनी लड़ाई लड़कर आखिरकार बाल विवाह के बंधन की बेड़ियों से मुक्त हो गई.

जयपुर: सीएम अशोक गहलोत ने केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी की जमकर की तारीफ, कही ये बड़ी बातें

डेढ़ साल की सुनवाई के बाद गुरुवार को आया कोर्ट का फैसला


इस बाल विवाह निरस्त करवाने में नींबू का साथ दिया सारथी ट्रस्ट की कृति भारती ने. कृति ने नींबू के बाल विवाह को निरस्त करवाने के लिए जोधपुर परिवारिक न्यायालय में वाद दायर किया. न्यायालय में नींबू के बाल विवाह व उसे संबंधित सबूत पेश कर बाल विवाह निरस्त करने की मांग रखी. आखिरकार डेढ़ साल की सुनवाई के बाद गुरुवार को परिवारिक न्यायालय संख्या-1 के न्यायाधीश महेंद्र सिंह सिंहल ने नींबू के बाल विवाह को निरस्त करने के आदेश दे दिए.

अब तक 41 बाल विवाह निरस्त करवा चुकी है कृति भारती
सारथी ट्रस्ट की कृति भारती अब तक 41 बाल विवाह निरस्त करवा चुकी है. उन्हें वर्ल्ड रिकॉर्ड और लिम्का बुक में भी जगह मिल चुकी है. कृति के प्रयासों से एक और बालिका वधू कुप्रथा की बेड़ियों से मुक्त हो गई.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज