इंडियन मुजाहिद्दीन के सभी 10 संदिग्ध आतंकियों की पेशी आज

पिछली 5 पेशियों से सभी आतंकियो को एक साथ पेश नहीं किए जाने के चलते, कोर्ट ने नाराजगी जताते हुए सभी आतंकियो को एक साथ पेश करने के आदेश जेल अधीक्षक को दिए थे.

Chandra Shekhar Vyas | ETV Rajasthan
Updated: January 3, 2018, 8:44 AM IST
इंडियन मुजाहिद्दीन के सभी 10 संदिग्ध आतंकियों की पेशी आज
संदिग्ध आतंकियों पर लगाए गए चार्ज पर आज शुरू हो सकती है बहस.
Chandra Shekhar Vyas | ETV Rajasthan
Updated: January 3, 2018, 8:44 AM IST
इंडियन मुजाहिद्दीन के संदिग्ध आतंकियों की बुधवार को एडीजे 3 जयप्रकाश नारायण पुरोहित के समक्ष पेश किया जाना है. पिछली 5 पेशियों से सभी आतंकियो को एक साथ पेश नहीं किए जाने के चलते, कोर्ट ने नाराजगी जताते हुए सभी आतंकियो को एक साथ पेश करने के आदेश जेल अधीक्षक को  दिए थे. बुधवार को सभी आतंकियों को कोर्ट के समक्ष एक साथ पेश किया जाना है.

इंडियन मुजाहिद्दीन के आतंकी नेटवर्क को तोड़ने के साथ ही एटीएस टीम ने  संदिग्ध आंतकियों को पकड़ते हुए सलाखों के पीछे बंद किया था. एडीजे कोर्ट संख्या तीन में इस मामले की सुनवाई बुधवार को होनी है.

पिछली सुनवाई के दौरान सभी आतंकियो को एक साथ पेश न करने के चलते कोर्ट ने नाराजगी जताते हुए जेल अधीक्षक को सभी 10 आतंकियों को एक साथ पेश करने के आदेश दिये थे. गौरतलब है कि चार संदिग्ध आंतकी दिल्ली जेल में होने के चलते लगातार 5 पेशियों से केवल छह आतंकियों को ही पेश किया जा रहा है, जिसके चलते कोर्ट लगातार नाराजगी जाहिर कर चुका है.

इस मामले में बुधवार को आतंकियों पर लगे चार्ज में बहस शुरू सकती है. गौरतलब है कि 23 मार्च 2014 को प्रतापनगर थाने में मुकदमा दर्ज होने के साथ राजस्थान में आंतकी गतिविधियो एवं विस्फोट की योजना बनाने वाले इंडियन मुजाहिद्दीन के नेटवर्क को एटीएस की टीम ने तोड दिया था.

इसके बाद एटीएस की टीम ने एक-एक कर सभी दस संदिग्ध आंतकियों को गिरफ्तार कर लिया था. इस मामले चार्ज लगाए जा हो चुके हैं अब केवल लगाए गए चार्ज पर बहस होनी शेष है. सरकार की से बुधवार को लोक अभियोजन अधिकारी दिनेश कुमार शर्मा पक्ष रखेंगे.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए जोधपुर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 3, 2018, 8:44 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...