Home /News /rajasthan /

ashok gehlot get big set back close congress leader son pankaj surana joins bjp said inspired with pm modi cgpg

CM अशोक गहलोत को तगड़ा झटका, करीबी रहे कांग्रेस नेता के बेटे पंकज सुराणा बीजेपी में शामिल

Rajasthan Politics: कांग्रेस नेता स्वर्गीय जवाहर सुराणा के बेटे पंकज सुराणा ने बीजेपी का थामा दामन.

Rajasthan Politics: कांग्रेस नेता स्वर्गीय जवाहर सुराणा के बेटे पंकज सुराणा ने बीजेपी का थामा दामन.

Jaipur News: राजस्थान (Rajasthan News) में चुनाव से पहले सियास तेज हो गई है. मुख्यमंत्री अशोक गहलोत (CM Ashok Gehlot) के सालों से करीबी रहे राजस्थान आवासन मण्डल के निदेशक स्वर्गीय जवाहर सुराणा के पुत्र पंकज सुराणा (Pankaj Surana News) ने शुक्रवार को बीजेपी का दामन थाम लिया है. पंकज सुराणा का कहना है कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व से प्रभावित होकर उन्होंने भाजपा की सदस्यता ग्रहण की है.

अधिक पढ़ें ...

Dr. Ranjan Dave

जोधपुर. राजस्थान कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के सालों तक निकट सहयोगी रहे राजस्थान आवासन मण्डल के निदेशक स्वर्गीय जवाहर सुराणा के पुत्र पंकज सुराणा ने शुक्रवार को भारतीय जनता पार्टी की सदस्यता ग्रहण कर ली. केन्द्रीय जल शक्ति मंत्री गजेन्द्र सिंह शेखावत ने पंकज सुराणा को भाजपा का दुपट्टा पहनाकर और पुष्पगुच्छ भेंट कर स्वागत और सदस्यता ग्रहण करवाई.  भाजपा जोधपुर शहर जिला अध्यक्ष देवेन्द्र जोशी ने बताया कि कांग्रेस के उदयपुर चिन्तन शिविर का असर जोधपुर में भी नजर आने लगा है. कांग्रेस से मोहभंग होने के बाद जोधपुर युवा कांग्रेसी भी भाजपा और प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की नीतियों से प्रभावित हो कर भाजपा में शामिल हो रहे हैं.

इसी क्रम में जोधपुर कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के निकट सहयोगी रहे राजस्थान आवासन मण्डल के निदेशक स्वर्गीय जवाहर सुराणा के पुत्र पंकज सुराणा ने शुक्रवार को भाजपा की सदस्यता ग्रहण की. भाजपा ज्वाइन करने के बाद इस अवसर पर पंकज सुराणा ने जोधपुर सांसद केन्द्रीय मंत्री शेखावत का आभार जताया. पंकज सुराणा का कहना है कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व से प्रभावित होकर उन्होंने भाजपा की सदस्यता ग्रहण की है.

मुख्यमंत्री गहलोत के करीबी माने जाते थे सुराणा

जवाहर सुराणा मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के करीबी माने जाते रहे हैं. उन्हें चुनाव राजीति का बेहतरीन रणनीतिकार माना जाता था. जानकारी के मुताबिक, चुनाव के दौरान वे सीएम गहलोत के लिए रणनीति तैयार करने में अहम भूमिका निभाते थे. इतना ही नहीं अक्सर मुख्यमंत्री गहलोत भी उनके घर जाते रहते थे. अब सुराणा के निधन के बाद उनके बेटे ने बीजेपी का दामन थाम लिया है. जानकारों की मानें तो सूबे में चुनावी उठा पटक के बीच सीएम गहलोत के लिए यह बड़ा झटका साबित हो सकता है.

Tags: Jodhpur News, Rajasthan news, Rajasthan Politics

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर