अपना शहर चुनें

States

Rajasthan: अलवर और सवाई माधोपुर के कलेक्टर बदले, गहलोत सरकार 6 IAS अफसरों का किया तबादला, देखें पूरी लिस्ट

अशोक गहलोत सरकार (Ashok Gehlot government) ने रविवार देर रात दो जिलों के कलक्टर समेत आधा दर्जन आईएएस अधिकरियों के तबादले (IAS Transfer) कर दिये हैं. डॉ. समित शर्मा को जयपुर का संभागीय आयुक्त बनाया गया है.
अशोक गहलोत सरकार (Ashok Gehlot government) ने रविवार देर रात दो जिलों के कलक्टर समेत आधा दर्जन आईएएस अधिकरियों के तबादले (IAS Transfer) कर दिये हैं. डॉ. समित शर्मा को जयपुर का संभागीय आयुक्त बनाया गया है.

अशोक गहलोत सरकार (Ashok Gehlot government) ने रविवार देर रात दो जिलों के कलक्टर समेत आधा दर्जन आईएएस अधिकरियों के तबादले (IAS Transfer) कर दिये हैं. डॉ. समित शर्मा को जयपुर का संभागीय आयुक्त बनाया गया है.

  • Share this:
जयपुर. प्रदेश की अशोक गहलोत सरकार (Ashok Gehlot government) ने ब्यूरोक्रेसी में एक बार फिर बदलाव करते हुए रविवार रात को 6 आईएएस अधिकारियों के तबादले (Transferred) कर दिये हैं. आईएएस नन्नूमल पहाड़िया को अलवर (Alwar) का कलक्टर बनाया है, जबकि राजेंद्र किशन सवाई माधोपुर (Sawai Madhopur) के कलक्टर होंगे. अलवर कलक्टर के पद पर पदस्थापित आनंदी के सेंट्रल डेपुटेशन पर जाने के बाद अलवर कलक्टर का पद रिक्त हो गया था. इस पर सरकार को नये कलक्टर की नियुक्ति करनी थी.

कार्मिक विभाग की ओर से जारी आदेश के अनुसार जोधपुर के संभागीय आयुक्त डॉ. समित शर्मा की भी जयपुर वापसी हो गई है. समित शर्मा को जयपुर का संभागीय आयुक्त बनाया है. आयुर्वेद विभाग एवं भारतीय चिकित्सा पद्धति के शासन सचिव राजेश शर्मा को जोधपुर का संभागीय आयुक्त बनाया गया है. जयपुर के संभागीय आयुक्त सोमनाथ मिश्रा के सेवानिवृत्त होने के बाद जयपुर के संभागीय आयुक्त का पद खाली चल रहा था. अब सरकार ने डॉ. समित शर्मा को जयपुर के संभागीय आयुक्त की अहम जिम्मेदारी सौंपी है. डॉ. समित शर्मा सीएम गहलोत के पसंदीदा ब्यूरोक्रेट्स माने जाते हैं.

Rajasthan: राजसमंद से BJP विधायक किरण माहेश्वरी का कोरोना से निधन, मेदांता अस्पताल में ली अंतिम सांस

राज्य निर्वाचन आयोग की सहमति से किये तबादले


राज्य में फिलहाल जिला परिषद एवं पंचायत राज विभाग की चुनाव प्रक्रिया चल रही है. ऐसे में राज्य सरकार ने राज्य निर्वाचन आयोग की सहमति से इन अधिकारियों के तबादले किए हैं. भारत निर्वाचन आयोग के मतदाता सूचियों के पुनरीक्षण कार्यक्रम चलने के कारण जिला कलक्टर्स के तबादलों पर भी बैन लगा हुआ है. लेकिन अलवर की कलक्टर आनंदी के सेंट्रल डेपुटेशन पर जाने के बाद सरकार को वहां नया कलक्टर लगाना था. उल्लेखनीय है पिछले दिनों राज्य सरकार ने बड़ी संख्या में आईएएस और आरएएस अधिकारियों के तबादले कर पूरी ब्यूरोक्रेसी का चेहरा बदल दिया था.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज