लाइव टीवी

COVID-19 की जांच के बाद प्रवासियों को रोजगार देगी राजस्थान की अशोक गहलोत सरकार
Jodhpur News in Hindi

Lalit Singh | News18 Uttar Pradesh
Updated: May 21, 2020, 4:26 PM IST
COVID-19 की जांच के बाद प्रवासियों को रोजगार देगी राजस्थान की अशोक गहलोत सरकार
अशोक गहलोत सरकार प्रवासियों को रोजगार देने के लिए कोरोना टेस्ट और जॉब कार्ड अभियान चलाएगी. (फाइल फोटो)

राजस्थान लौटने वाले प्रवासी मजदूरों (Migrant Laborers) की पहले कोरोना की जांच होगी, फिर जॉब कार्ड बनाकर सरकार उनको मनरेगा के तहत रोजगार देगी. इसके लिए कोरोना टेस्ट और जॉब कार्ड अभियान चलाया जाएगा

  • Share this:
जोधपुर. कोरोनावायरस (COVID-19) संक्रमण के चलते देश भर से प्रवासी मजदूर अपने-अपने घरों को लौट रहे हैं. प्रवासी मजदूरों को घर पहुंचने में कई दिक्कतों का सामना भी करना पड़ रहा है. राजस्थान की अशोक गहलोत (Ashok Gehlot) सरकार प्रवासियों को बड़ा तोहफा देने जा रही है. प्रवासी मजदूरों (Migrant Laborers) की पहले कोरोना की जांच होगी, फिर जॉब कार्ड बनाकर सरकार उनको मनरेगा के तहत रोजगार देगी. इसके लिए कोरोना टेस्ट और जॉब कार्ड अभियान चलाया जाएगा.

जोधपुर जिला प्रभारी नवीन महाजन ने कहा कि जोधपुर संभाग में आने वाले सात हजार से ज्यादा प्रवासियों की सात दिनों में कोरोना जांच करने का लक्ष्य रखा गया है. साथ ही 7,000 प्रवासी श्रमिकों के जॉब कार्ड बनवाने का काम भी शुरू कर रहे हैं. जॉब कार्ड बनाकर इन प्रवासी श्रमिकों को मनरेगा में रोजगार दिया जाएगा.

महाजन ने गुरुवार को शहर में कोरोना के बड़े हॉटस्पॉट इलाकों में की गई व्यवस्थाओं का जायजा लिया. जोधपुर के नागौरी गेट से लेकर पांच थाना इलाकों का दौरा कर प्रभारी सचिव ने आम लोगों से मुलाकात की. प्रभारी सचिव ने इस दौरान कर्फ्यूग्रस्त इलाकों में रहने वाले लोगो सें मुलाकात कर उनकी परेशानी के बारे में जाना. इसके बाद प्रभारी नवीन महाजन ने जोधपुर की व्यवस्थाओं पर संतोष जाहिर किया.



कोरोना संक्रमण पर हालत काबू में होने का किया दावा



नवीन महाजन ने कहा कि, जोधपुर शहर में सबसे ज्यादा कोरोना टेस्ट किए गए हैं. जिले ने अब तक टेस्ट करने के मामले में राज्य के अन्य सभी जिलों को पीछे छोड़ दिया है. उन्होंने कहा कि, ज्यादा टेस्ट करने से ही इतने पॉजिटिव केस सामने आए हैं और अब एक्टिव केस भी यहां केवल 215 के आस-पास रह गए हैं.

जिला प्रभारी नियुक्त किए जाने के बाद नवीन महाजन ने गुरुवार को जोधपुर के पुराने शहर का दौरा कर व्यवस्थाएं देखीं. महाजन नागोरी गेट से परकोटे के भीतर के शहर में प्रवेश कर घंटाघर होते हुए उदय मंदिर इलाके में पहुंचे. यहां उन्होंने आम नागरिकों और पुलिस मित्रों से भी बात की. उनके साथ जिला कलेक्टर प्रकाश राजपुरोहित, पुलिस कमिश्नर प्रफुल्ल कुमार, डीसीपी ईस्ट धर्मेंद्र सिंह यादव समेत अन्य अधिकारी भी थे.

बहरहाल जोधपुर में भले ही कोरोना संक्रमण से ग्रस्त मरीजों की रफ्तार बढ़ रही है, लेकिन साथ ही कोरोना संक्रमण के मरीज ठीक भी जल्द हो रहे हैं. शहर में पॉजिटिव मरीजों का आंकड़ा 1,131 पहुंच गया है, लेकिन एक्टिव केस महज 215 के आसपास ही रह गए हैं. शेष अन्य ठीक होकर अपने घर लौट चुके हैं.

ये भी पढ़ें - 

राजस्थान: COVID-19 को मात देने की दर 57%, होम क्वारंटाइन उल्लंघन के 25,920 केस

पूर्व मंत्रियों के बंगले खाली करवाने पर राजनीति गरमाई, विवेक तन्खा ने कहा- दिल दहलानेवाली कार्रवाई

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए जोधपुर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: May 21, 2020, 4:03 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading