Assembly Banner 2021

Jodhpur News: पाकिस्तानी सरहद की तरफ से आया इलेक्‍ट्रॉनिक डिवाइस लगा बैलून, हड़कंप

पुलिस का कहना है कि मामले की जांच की जा रही है. फिलहाल इस बारे में कुछ नहीं कहा जा सकता. जांच के बाद ही कुछ पता चल पायेगा की ये डिवाइस किस चीज का है और कहां से आया है.

पुलिस का कहना है कि मामले की जांच की जा रही है. फिलहाल इस बारे में कुछ नहीं कहा जा सकता. जांच के बाद ही कुछ पता चल पायेगा की ये डिवाइस किस चीज का है और कहां से आया है.

पाकिस्तानी सीमा (Pakistani Border) की तरफ से एक बार फिर एक बैलून उड़कर जोधपुर के फलौदी इलाके में आया है. इस बैलून के साथ एक इलेक्‍ट्रॉनिक डिवाइस (Electronic Equipment) लगा है. पुलिस पूरे मामले की जांच में जुटी है.

  • Share this:
जोधपुर. पश्चिमी राजस्थान में एक बार फिर पाकिस्तान की सरहद (Pakistan border) की तरफ से इलेक्‍ट्रॉनिक उपकरण (Electronic equipment) लगा एक बैलून उड़कर आया है. बैलून में उपकरण लगे होने की जानकारी मिलने के बाद तत्काल पुलिस मौके पर पहुंची और छानबीन कर बैलून को अपने कब्जे में ले लिया. पुलिस पूरे मामले की जांच में जुटी है.

जानकारी के अनुसार, उपकरण लगा यह बैलून फलौदी इलाके के आऊ के सियोलनगर गांव की सरहद में सोमवार सुबह आकर गिरा. यह बैलून पाकिस्तान की दिशा से आया बताया जा रहा है. बैलून जिस समय खेत में आकर गिरा उस समय वहां कुछ बच्चे खेल रहे थे. बच्चों ने इसकी सूचना ग्रामीणों को दी. ग्रामीणों ने तत्काल पुलिस को सूचित किया. इस पर पुलिस मौके पर पहुंची और इलेक्‍ट्रॉनिक डिवाइस को अपने कब्जे में ले लिया. पुलिस ने मामले की जानकारी उच्चधिकारियों को दी है. पुलिस का कहना है कि मामले की जांच की जा रही है. फिलहाल इस बारे में कुछ नहीं कहा जा सकता. जांच के बाद ही कुछ पता चल पायेगा की यह डिवाइस किस चीज का है और कहां से आया है.

सीमावर्ती इलाके में पाकिस्‍तान की अवांछनीय हरकतें
उल्लेखनीय है कि फलौदी से पाकिस्तान बॉर्डर करीब 290 किमी दूर है, लेकिन अंतरराष्ट्रीय सीमा से सटे जैसलमेर जिले का पोकरण फलौदी के पास स्थित है. फलौदी में भारतीय सेना की बहुत बड़ी फायरिंग रेंज है. इस बॉर्डर इलाके में पूर्व में भी कई बार सीमा पार से इस तरह की चीजें आ चुकी हैं. पाकिस्तान सीमावर्ती इलाके की टोह लेने के लिए कई बार स्थानीय वाशिंदों को व्‍हाट्सएप कॉल भी करता है. इसके कई मामले श्रीगंगानगर समेत बीकानेर में भी सामने आ चुके हैं. वहीं, पाकिस्तान की सरहद पार से कई बार बैलून और अन्य संदिग्ध चीजें जैसलमेर तथा बाड़मेर भी में आ चुकी हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज