जोधपुर: नशीली गोलियों की बड़ी खेप पकड़ी, प्याज की बोरियों के नीचे छिपाकर ले जा रहे थे ड्रग माफिया

जिस पिकअप में नशे की यह खेप ले जाई जा रही थी उसके आगे जीपीएस तकनीक से लैस दो मोटरसाइकिलों पर ड्रग माफिया के लोग पुलिस की रेकी कर रहे थे.

जिस पिकअप में नशे की यह खेप ले जाई जा रही थी उसके आगे जीपीएस तकनीक से लैस दो मोटरसाइकिलों पर ड्रग माफिया के लोग पुलिस की रेकी कर रहे थे.

caught a large Consignment of intoxicating pills: जोधपुर पुलिस ने नशीली दवाओं की बड़ी खेप जब्त कर एक तस्कर को गिरफ्तार किया है. पुलिस ने प्याज की बोरियों के नीचे छिपाकर ले जाई जा रही नशे की लाख अस्सी हजार टेबलेट्स बरामद की हैं.

  • Share this:

जोधपुर. राजधानी जयपुर और अजमेर के बाद राजस्थान पुलिस ने अब जोधपुर ग्रामीण इलाके में नशीली दवाओं (Narcotic drugs) का कारोबार करने वाले माफिया के खिलाफ बड़ी कार्रवाई की है. पुलिस ने यहां ड्रग माफियाओं (Drug mafias) के कब्जे से 1 लाख 80 हजार नशीली गोलियां बरामद कर एक तस्कर को गिरफ्तार किया है. नशीली दवाओं की यह खेप एक पिकअप में प्याज की बोरियों के नीचे छिपाकर ले जाई जा रही थी. बरामद की गई दवा का बाजार मूल्य लाखों रुपये बताया जा रहा है. ड्रग माफिया के खिलाफ यह कार्रवाई बाप थाना इलाके में की गई है.

बाप थानाधिकारी हरिसिंह राजपुरोहित ने बताया कि मुखबिर की सूचना पर पुलिस ने आज एक पिकअप गाड़ी को रुकवाया. जांच के दौरान पाया गया कि प्याज की बोरियों के नीचे छह कार्टन छिपाकर रखे गये हैं. उन कार्टन को खोलकर देखा तो उनमें नशे की गोलियों की मिली. कार्टन में टामाडोल नामक नशे की एक लाख अस्सी हजार गोलियां बरामद हुई. इस पर पुलिस ने तस्कर गंगानगर निवासी इलियास को गिरफ्तार कर लिया.

मोटरसाइकिल पर कर रहे थे रेकी

थानाधिकारी हरीसिंह राजपुराहित ने बताया कि इस पिकअप गाड़ी के आगे जीपीएस तकनीक से लैस दो मोटरसाइकिलों पर ड्रग माफिया के लोग पुलिस की रेकी कर रहे थे. चूंकि पुलिस ने गुप्त नाकेबंदी की तो लिहाजा उन्हें इस बात की भनक नहीं लगी और वे पकड़े गये. फिलहाल पुलिस मामले की जांच में जुटी है. जांच फलौदी थाना पुलिस को सौंपी गई है.
हाल ही में जयपुर और अजमेर में पकड़ी गई थी 16 करोड़ की दवायें

उल्लेखनीय है इससे पहले हाल ही में पुलिस ने राजधानी जयपुर में ड्रग माफिया के खिलाफ बड़ी कार्रवाई करते हुये करीब पांच करोड़ रुपये की नशीली दवाओं की खेप पकड़ी थी. उसके बाद जयपुर से मिले सुराग के आधार पर अजमेर में नशीली दवाओं की अब तक की सबसे बड़ी कार्रवाई की गई. जयपुर पुलिस ने अजमेर पुलिस के सहयोग के वहां 11 करोड़ की नशीली दवायें जब्त की थी.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज