Home /News /rajasthan /

Congress Politics: गहलोत के गढ़ जोधपुर में पायलट के स्वागत में उमड़ी भीड़, प्रतिद्वंदी खेमे ने बनाई रखी दूरी

Congress Politics: गहलोत के गढ़ जोधपुर में पायलट के स्वागत में उमड़ी भीड़, प्रतिद्वंदी खेमे ने बनाई रखी दूरी

पायलट बाड़मेर जाने के लिये दिल्ली से फ्लाइट से रवाना होकर जोधपुर एयरपोर्ट पहुंचे थे.

पायलट बाड़मेर जाने के लिये दिल्ली से फ्लाइट से रवाना होकर जोधपुर एयरपोर्ट पहुंचे थे.

Ashok Gehlot Vs Sachin Pilot: सीएम अशोक गहलोत के गृह क्षेत्र जोधपुर पहुंचे उनके प्रतिद्वंदी सचिन पायलट के स्वागत में वहां जबर्दस्त भीड़ उमड़ी. पायलट वरिष्ठ विधायक हेमाराम चौधरी (Hemaram chaudhary) के भाई के निधन पर शोक जताने के लिये यहां आये थे, लेकिन उनके समर्थकों ने इसे शक्ति प्रदर्शन में बदल दिया.

अधिक पढ़ें ...

जयपुर. राजस्थान में अशोक गहलोत और सचिन पायलट (Ashok Gehlot Vs Sachin Pilot) के बीच सुलह की पार्टी हाईकमान की कोशिश अब तक सफल नहीं होने के बाद सचिन पायलट सोमवार को गहलोत के गृहक्षेत्र जोधपुर (Jodhpur) पहुंचे. इस दौरान जोधपुर एयरपोर्ट पर पायलट के समर्थन में भारी भीड़ जुटी. पायलट का उनके समर्थकों ने जोधपुर से लेकर बालोतरा तक 100 किलोमीटर की दूरी में जगह-जगह स्वागत किया. पायलट वहां किसी राजनीति कार्यक्रम में शामिल नहीं गये थे. वे अपने खेमे के वरिष्ठ विधायक हेमाराम चौधरी के भाई की मृत्यु पर शोक व्यक्त करने बाड़मेर गए थे, लेकिन उनके समर्थकों के भीड़ के कारण उनका यह निजी दौरा भी किसी शक्ति प्रदर्शन से कम नजर नहीं आया.

पायलट के इस दौरे के दौरान सीएम अशोक गहलोत के समर्थक विधायकों और कांग्रेस के पदाधिकारियों ने दूरी बनाई रखी. इसके चलते यहां भी पार्टी पूरे दो खेमों में बंटी हुई नजर आई. पायलट दिल्ली से इंडिगो की फ्लाइट से रवाना होकर जोधपुर एयरपोर्ट पहुंचे थे. वहां से सड़क मार्ग के रास्ते बालोतरा के जानियाना के मूलजी की ढाणी पहुंचे. वहां पायलट ने पूर्व राजस्व मंत्री एवं गुड़ामालानी विधायक हेमाराम चौधरी के छोटे भाई जैसाराम के निधन पर शोक व्यक्त किया. इस दौरान पायलट के साथ लाडनूं विधायक मुकेश भाकर, परबतसर विधायक रामनिवास गावड़िया और पीसीसी उपाध्यक्ष राजेंद्र चौधरी भी मौजूद रहे.

Congress Politics: वल्लभनगर विधानसभा उपचुनाव से पहले शक्तावत परिवार में में सामने आई दरार

हेमाराम चौधरी को पायलट का नजदीकी माना जाता है
इससे पहले बाड़मेर-जोधपुर सीमा पर युवा नेता आजाद सिह सहित सैकड़ों कांग्रेसी कार्यकर्ताओं ने गर्मजोशी के साथ पायलट का स्वागत किया. कार्यकर्ताओं ने जमकर सचिन पायलट जिंदाबाद के नारे भी लगाये. पायलट का बाड़मेर के कल्याणपुर, सरवड़ी, कुड़ी, भांडियावास और पचपदरा में भी जोरदार स्वागत किया गया. आपको बता दें कि हेमाराम चौधरी को पायलट का नजदीकी माना जाता है. हेमाराम बगावत के समय भी पायलट के साथ खड़े नजर आए थे. अपनी सुनवाई नहीं होने से नाराज होकर उन्होंने विधानसभा की सदस्यता से भी इस्तीफा भी दे रखा है, लेकिन अभी तक उसे अभी तक स्वीकार नहीं किया गया है.

Tags: Ashok Gehlot Government, Ashok Gehlot Vs Sachin Pilot, Rajasthan Congress, Rajasthan Politics

विज्ञापन
विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर