Corona Side Effects: जोधपुर में पर्यटन उद्योग ठप, डेढ़ लाख लोग बेरोजगार, करोड़ों का नुकसान
Jodhpur News in Hindi

Corona Side Effects: जोधपुर में पर्यटन उद्योग ठप, डेढ़ लाख लोग बेरोजगार, करोड़ों का नुकसान
जोधपुर किला.

लॉकडाउन (Lockdown) में राजस्थान (Rajasthan) के सूर्यनगरी का पर्यटन उद्योग पूरी तरह ठप हो गया है. जोधपुर (Jodhpur) का टॉप टूरिस्ट व वेडिंग डेस्टिनेशन दुनिया में अलग पहंचान रखता है.

  • Share this:
जोधपुर. लॉकडाउन (Lockdown) में राजस्थान (Rajasthan) के सूर्यनगरी का पर्यटन उद्योग पूरी तरह ठप हो गया है. जोधपुर का टॉप टूरिस्ट व वेडिंग डेस्टिनेशन दुनिया में अलग पहंचान रखता है. लेकिन इन दिनों यहां सन्नाटा ही नजर आ रहा है. ब्ल्यू सिटी के नाम से मशहूर जोधपुर में कोरोना काल से डेड़ लाख लोगो के रोजगार पर संकट आ चुका है. आधा सीजन वीरानी में ख़त्म हो चुका है और बाकि सीजन में किसी टूरिस्ट के जोधपुर आने की सम्भावना नजर नहीं आ रही. ऐसे में जोधपुर का मेहरानगढ़, उम्मेद भवन के साथ सभी होटल्स व गेस्ट हॉउस वीरान नजर आ रहे है.

दुनिया में टाॅप टूरिस्ट सेंटर व वेडिंग डेस्टिनेशन का दर्जा प्राप्त कर चुके जोधपुर में कोरोना संक्रमण के चलते पर्यटन उद्योग के अस्तित्व का संकट आ चुका है. आधी सीजन खत्म हो चुकी है और बढ़ते कोरोना संक्रमण के आकड़ो के चलते इस साल कोई टूरिस्ट के जोधपुर आने की सम्भावना नहीं लग रही. हमेशा विदेशी व देशी पर्यटकों से भरा रहने वाला मेहरानगढ़, उम्मेद भवन में सन्नाटा नजर आ रहा है.

400 होटल, 250 से अधिक गेस्ट हॉउस
जोधपुर का प्राचीन व ऐतिहासिक मेहरानगढ़ किला सुनसान दिखाई दे रहा है. इतिहास में पहली बार मेहरानगढ़ फोर्ट का दरवाजा पिछले दो महीने से बंद पड़ा है. मेहरानगढ़ के साथ जोधपुर के पांच सितारा व छोटे बड़े करीब 400 होटल बंद पड़े हैं. साथ ही भीतरी शहर में करीबन 250 से अधिक गेस्ट हॉउस पर ताला लगा हुआ है. परकोटे के ऊपर से गेस्ट हॉउस की छतों पर खली कुर्सियां व झंडे नजर आ रहे हैं, लेकिन इनकी शान बढ़ाने वाला टूरिस्ट दूर दूर नजर नहीं आ रहा है. मेहरानगढ़ ट्रस्ट के निदेशक डॉ. करनी सिंह के अनुसार इस साल तो करीब करीब पूरा टूरिजम सेक्टर बंद रहने वाला है. विदेशी पर्यटक के तो अगले साल भी यहां आने की सम्भावना नहीं लगती. साथ ही डोमेस्टिक पर्यटकों के भी दिसंबर से पहले आने की सम्भावना नहीं दिखाई दे रही.



जोधपुर का इतिहास बताने वाले गाइड भी बेरोजगार


इस बिच देशी व विदेशी पर्यटकों को जोधपुर का इतिहास बताने वाले गाइड से लेकर हजारो लोग बेरोजगार हो चुके है. हमेशा पर्यटकों के बिच घिरे नजर आने वाले गाइड इस बार अकेले अकेले खड़े नजर आ रहे हैं. गाइड एसोसिएशन के महासचिव मान सिंह मेड़तिया के अनुसार जोधपुर में 300 से अधिक गाइड पिछले दो महीने से घर में बैठे हैं. टूरिजम सेक्टर के ठप होने से उनके रोजी रोटी पर संकट आन पड़ा है.
ये भी पढ़ें:
Lockdown: दूल्हा नहीं जुटा पाया साहस तो बारात लेकर ससुराल पहुंची दुल्हन, फिर..

राजस्थान में हवाई यात्रा आज से शुरू, इन बातों का रखना होगा ख्याल, एक क्लिक में पढ़ें- सरकार की गाइडलाइन
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading