• Home
  • »
  • News
  • »
  • rajasthan
  • »
  • Jodhpur News: राधाकृष्णन आयुर्वेद विश्वविद्यालय में बनेगा 100 बेड का देश का सबसे बड़ा सरकारी पंचकर्म केंद्र

Jodhpur News: राधाकृष्णन आयुर्वेद विश्वविद्यालय में बनेगा 100 बेड का देश का सबसे बड़ा सरकारी पंचकर्म केंद्र

विश्वविद्यालय प्रशासन ने इस अंतरराष्ट्रीय पंचकर्म सेंटर को टूरिज्म को बढ़ावा देने के लिये वैलनेस सेंटर के रूप में विकसित करने का प्रस्ताव तैयार किया है.

विश्वविद्यालय प्रशासन ने इस अंतरराष्ट्रीय पंचकर्म सेंटर को टूरिज्म को बढ़ावा देने के लिये वैलनेस सेंटर के रूप में विकसित करने का प्रस्ताव तैयार किया है.

Good News: जोधपुर स्थित आयुर्वेद विश्वविद्यालय ने 60 करोड़ की लागत से देश का सबसे बड़ा सरकारी पंचकर्म केन्द्र बनाने की तैयारी है. 100 बेड के इस अंतरराष्ट्रीय पंचकर्म केंद्र (International Panchakarma Center) में अलग से 2 मंजिला इमारत में करीब 50 से 60 हट कॉटेज भी बनाये जायेंगे.

  • Share this:
जोधपुर. सनसिटी जोधपुर (Jodhpur) को जल्द ही एक और बड़ी सौगात मिलने जा रही है. जोधपुर में स्थित डॉ. सर्वपल्ली राधाकृष्णन आयुर्वेद विश्वविद्यालय (Sarvepalli radhakrishnan ayurved university) में देश का सबसे बड़ा सरकारी पंचकर्म केंद्र (Panchakarma cente) बनने जा रहा है. आयुर्वेद विश्वविद्यालय ने 60 करोड़ की लागत से बनने वाले इस पंचकर्म केंद्र का प्रस्ताव सरकार को भेज दिया है. जल्द ही इस प्रस्ताव के पास होते ही बहुमंजिला पंचकर्म केंद्र का निर्माण शुरू हो जाएगा. आयुर्वेद विश्वविद्यालय परिसर में 100 बेड का अंतरराष्ट्रीय पंचकर्म केंद्र बनाया जाएगा. कैंपस में 2.75 हैक्टेयर में इसके लिए अलग से 2 मंजिला इमारत में करीब 50 से 60 हट कॉटेज भी बनेंगे.

जोधपुर स्थित आयुर्वेद विश्वविद्यालय में अंतरराष्ट्रीय पंचकर्म केंद्र के निर्माण में टूरिज्म और वैलनेस सेंटर को भी शामिल किया जाएगा. केरल के एक दो निजी पंचकर्म केंद्र को छोड़ दें तो यह देश का सबसे बड़ा सरकारी पंचकर्म केंद्र होगा. विश्वविद्यालय प्रशासन ने इस अंतरराष्ट्रीय पंचकर्म सेंटर को टूरिज्म को बढ़ावा देने के लिये वैलनेस सेंटर के रूप में विकसित करने का प्रस्ताव तैयार किया है. इस सेंटर के बनने के बाद पर्यटक और आम नागरिक वैलनेस सेंटर का भी लाभ इस पंचकर्म केंद्र से ले पाएंगे.

सरकार की मंजूरी मिलते ही डेढ़ साल में होगा तैयार
सरकार की मंजूरी मिलने के बाद अंतरराष्ट्रीय पंचकर्म केंद्र डेढ़ साल में बनकर तैयार हो जाएगा. पंचकर्म केंद्र में वैलनेस और मेडिकल टूरिज्म दोनों की सुविधा रहेगी. लाइफस्टाइल से संबंधित बीमारियों के अलावा न्यूरोलॉजिकल डिसऑर्डर ,मेंटल डिसऑर्डर, ऑर्थोपेडिक सहित अन्य बीमारियों के लिए पंचकर्म थैरेपी दी जाएगी. पंचकर्म में 5 बड़ी थेरेपी के अलावा कई अन्य छोटी थैरेपी भी शामिल होगी. उल्लेखनीय है कि जोधपुर में हाल ही के बरसों में मेडिकल क्षेत्र की कई बड़ी सुविधाओं का विस्तार हुआ है. इसके कारण जोधपुर मेडिकल हब के रूप में विकसित होता जा रहा है. इससे जयपुर में मेडिकल सुविधाओं को लेकर बढ़ रहा भार कम हो सकेगा. लोगों को अब जोधपुर में मेडिकल सेक्टर के अच्छे विकल्प मिलने लगे हैं. राजस्थान का एकमात्र एम्स भी यहीं पर स्थापित है.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज