• Home
  • »
  • News
  • »
  • rajasthan
  • »
  • Jodhpur News: 80 लाख रुपये में हुई हिस्ट्रीशीटर कैलाश मांजू की हत्या की डील, वारदात से पहले 4 आरोपी गिरफ्तार

Jodhpur News: 80 लाख रुपये में हुई हिस्ट्रीशीटर कैलाश मांजू की हत्या की डील, वारदात से पहले 4 आरोपी गिरफ्तार

भीलवाड़ा और जोधपुर पुलिस ने हत्या की वारदात को अंजाम देने की तैयारी कर रहे  चार आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया.

भीलवाड़ा और जोधपुर पुलिस ने हत्या की वारदात को अंजाम देने की तैयारी कर रहे चार आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया.

Jodhpur Crime News: जोधपुर और भीलवाड़ा पुलिस ने हिस्ट्रीशीटर कैलाश मांजू (Historysheeter Kailash Manju) की हत्या की साजिश का खुलासा कर इस मामले में चार आरोपियों को गिरफ्तार किया है. मांजू की हत्या की डील 80 लाख रुपये में हुई थी.

  • Share this:
जोधपुर. सनसिटी जोधपुर शहर में बड़ी वारदात से पहले पुलिस को बड़ी सफलता हाथ लगी है. शहर के हिस्ट्रीशीटर कैलाश मांजू (Historysheeter Kailash Manju) की हत्या के प्लान को अमलीजामा पहनाने से पहले ही पुलिस ने इस वारदात को अंजाम देने की तैयारियों में जुटे चार आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है. कैलाश मांजू की हत्या के डील 80 लाख रुपये में की गई थी. उसके बाद हथियार और रुपये सब का इंतजाम हो गया. लेकिन भीलवाड़ा पुलिस की मदद से शहर में वारदात से पहले हत्या (Murder) करने में शामिल होने वाले 4 आरोपी गिरफ्तार कर लिये गये. अब पुलिस पूरे मामले की पड़ताल में जुटी है.

दरअसल तस्कर राजू फौजी और उसका साथी बाबूलाल जाट 10 अप्रैल को भीलवाड़ा में दो कांस्टेबलों की हत्या कर फरार हो गए थे. इस मामले में पुलिस कई दिनों से राजू फौजी की तलाश में थी. राजू फौजी ने पहले नागौर में फरारी काटी. फिर भीलवाड़ा पुलिस को भनक लगी कि राजू फौजी जोधपुर ग्रामीण स्थित नांदड़ी के एक मकान में छिपा हुआ है. इस पर भीलवाड़ा पुलिस राजू फौजी की तलाश में जोधपुर पहुंची और वहां डेरा डाल दिया.

हिस्ट्रीशीटर की हत्या के लिये 1 करोड़ मांगी थी सुपारी
फरारी काट रहे राजू फौजी और बाबूलाल जाट का इस घटना के बाद तस्करी का काला कारोबार ठप हो गया था. इससे उनके पास पैसे की किल्लत हो गई. इस बीच राजू फौजी और बाबूलाल की मुलाकात जोधपुर के मनोहर सिंह, सुभाष कड़वासरा, मनोहर सिंह आकेली, लवजीत सिंह और दिनेश बम्बानी से हुई. उन्होंने राजू फौजी को कैलाश मांजू की हत्या के लिए पैसे देने का ऑफर दिया. राजू फौजी ने हिस्ट्रीशीटर कैलाश मांजू की हत्या के लिए एक करोड़ की सुपारी मांगी. लेकिन इतने में सौदा पटा नहीं. बाद में पैसे की किल्लत को दूर करने के लिए उन्होंने हिस्ट्रीशीटर कैलाश मांजू की हत्या की सुपारी ले ली. हत्या की यह डील 80 लाख रुपये में तय हुई.

हत्या से पहले पुलिस को मिली सफलता
हिस्ट्रीशीटर कैलाश मांजू की हत्या की सुपारी लेने के बाद राजू फौजी और बाबूलाल जाट अपने प्लान पर काम शुरू कर चुके थे. लेकिन इस बीच बाबूलाल जाट एक मामले में रातानाडा थाना पुलिस की गिरफ्त में आ गया. उसके बाद हिस्ट्रीशीटर कैलाश मांजू की हत्या के प्लान का खुलासा हो गया. इस पर भीलवाड़ा पुलिस और जोधपुर पुलिस ने चार आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज