होम /न्यूज /राजस्थान /इंडिया पॉलिसी फाउंडेशन के डायरेक्टर बने जोधपुर के डॉ. कुलदीप रत्नु

इंडिया पॉलिसी फाउंडेशन के डायरेक्टर बने जोधपुर के डॉ. कुलदीप रत्नु

डॉ. कुलदीप रत्नु.

डॉ. कुलदीप रत्नु.

आरएसएस के सबसे बड़े थिंक टैंक माने जाने वाले इंडिया पॉलिसी फाउंडेशन के डारेक्टर की जिम्मेदारी जोधपुर निवासी डॉ. कुलदीप ...अधिक पढ़ें

    आरएसएस के सबसे बड़े थिंक टैंक माने जाने वाले इंडिया पॉलिसी फाउंडेशन के डारेक्टर की जिम्मेदारी जोधपुर निवासी डॉ. कुलदीप रत्नु को दी गई है. प्रोफेसर राकेश सिन्हा की जगह मंगलवार को सुरेश सोनी दत्तात्रेय होसबोले और श्याम परांदे की मौजूदगी में डॉ. रत्नु ने अपना पदभार ग्रहण किया है. स्वदेशी जागरण मंच के मुखपत्र स्वदेशी पत्रिका के संपादक रह चुके डॉ. रत्नु स्वदेशी पत्रिका का संपादक पद छोड़ने के बाद अजमेर के मेयो कॉलेज में 7 साल तक अध्यापन का काम कर चुके हैं.

    ये भी पढ़ें- लड़की को घर से अगवा कर जंगल में गैंगरेप, तीन के खिलाफ FIR दर्ज

    उन्होंने जोधपुर में स्कूल और कॉलेज शिक्षा के बाद चाइल्ड लेबर के मामले पर पीएचडी की. पिछले दो दशकों से संघ की कई संस्थाओं के साथ डॉ. कुलदीप रत्नु काम करते रहे हैं. स्वदेशी इवेंट, पब्लिकेशन, सच्चर कमेटी, नॉर्थ ईस्ट, दलित जागरण जैसे मुद्दों पर ये थिंक टैंक काम करता है. दक्षिणपंथी मुद्दों पर संघ के लिए रिसर्च और सलाह का काम यही इंडिया पॉलिसी फाउंडेशन करता है.
    इंडिया पॉलिसी फाउंडेशन के डायरेक्टर प्रोफेसर राकेश सिन्हा पिछले वर्ष राज्यसभा जाने के बाद इंडिया पॉलिसी फाउंडेशन को पूरा समय नहीं दे पा रहे थे. ऐसे में संघ के लिए लंबे समय से काम कर रहे हो डॉ. कुलदीप रत्नु को यह बड़ी जिम्मेदारी दी गई.

    ये भी पढ़ें- 'सबसे बड़े सट्टा बाजार' के ताजा भाव, BJP को मिली इतनी सीटें!

    उल्लेखनीय है कि राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ की पॉलिसी मेकिंग में सबसे बड़ा रोल निभाने वाला इंडिया पॉलिसी फाउंडेशन की सलाह आरएसएस के नीतिगत निर्णय लेने से पहले ली जाती है. कट्टर हिंदूवादी विषयों से लेकर वनवासियों को दक्षिणपंथी विचार धारा से जोड़ने, मुस्लिम आबादी से जुड़े विषयों, दलित चिंतन, सच्चर कमेटी से लेकर स्वामीनाथन आयोग की रिपोर्ट तक हर विषय पर आरएसएस इंडिया पॉलिसी फाउंडेशन से सलाह लेता है.

    ये भी पढ़ें- अलवर गैंगरेप केस: थानागाजी थाना प्रभारी सस्पेंड, 26 अप्रैल का मामला 2 मई को हुई FIR दर्ज

    एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स

    Tags: Jodhpur News, Rajasthan news, RSS

    टॉप स्टोरीज
    अधिक पढ़ें