जोधपुर में एलिवेटेड रोड प्रोजेक्ट जल्द पकड़ेगा स्पीड, यह है मेगा प्लान

जोधपुर शहर में करीब 1150 करोड़ की लागत से बनने वाले एलिवेटेड रोड को 7 महीने पहले केंद्र सरकार ने बनाने की घोषणा की थी.

Jodhpur elevated Road Project: जोधपुर के प्रस्तावित एलिवेटेड रोड प्रोजेक्ट पर अब जल्द ही काम शुरू होने जा रहा है. प्रोजेक्ट का ब्लू प्रिंट (Blue print) तैयार करने के लिए जल्द ही केन्द्र की टीम जोधपुर आएगी.

  • Share this:
जोधपुर. सनसिटी के नाम से दुनियाभर में मशहूर जोधपुर (Jodhpur ) के ड्रीम को पंख लगने की शुरुआत होने जा रही है. सूर्यनगरी की हार्ट लाइन पर ट्रैफिक के दबाव को कम करने वाले एलिवेटेड रोड के ड्रीम प्रोजेक्ट (Elevated Road Project) को अब गति मिलने जा रही है. शहर में साढ़े 9 किलोमीटर लंबे एलिवेटेड रोड प्रोजेक्ट की केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने वीसी के जरिए समीक्षा की है. वीडियो कॉन्फ्रेंस से हुई इस समीक्षा में मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और केंद्रीय मंत्री गजेन्द्र सिंह शेखावत भी शामिल हुए.

शहर के आखलिया चौराहे से कृषि मंडी चौराहे तक बनने वाली एलिवेटेड रोड को लेकर 7 महीने बाद केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने मंगलवार को वीसी के जरिये प्रोजेक्ट की समीक्षा की है. करीब 1150 करोड़ की लागत से बनने वाले इस एलिवेटेड रोड को 7 महीने पहले केंद्र सरकार ने बनाने की घोषणा की थी.

विशेषज्ञ टीम जोधपुर आकर तैयार करेगी प्रोजेक्ट का ब्लू प्रिंट
केंद्रीय सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी ने समीक्षा के दौरान बताया कि जोधपुर शहर में बनने वाली एलिवेटेड रोड को आधुनिक तकनीक से बनाया जाएगा. इसके लिए एक विशेषज्ञ टीम को जल्द जोधपुर भेजा जाएगा. यह टीम जोधपुर में बनने वाली एलिवेटेड रोड का ब्लू प्रिंट तैयार करेगी. यह टीम एलिवेटेड रोड के निर्माण से लेकर सभी बारीकियों का अध्ययन और विश्लेषण करेगी.

शेखावत ने प्रोजेक्ट को जल्द पूरा करने का दिलाया भरोसा
जोधपुर सांसद एवं केंद्रीय जल शक्ति मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत ने समीक्षा बैठक में कहा कि जोधपुर की यह एलिवेटेड रोड उनका सपना है. इस एलिवेटेड रोड के जमीनी कार्य करने के दौरान शहर के लोगों को परेशानी का सामना नहीं करना पड़े इसका खास ध्यान रखा जाएगा. उन्होंने प्रोजेक्ट स्वीकृत करने पर केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी का आभार जताते हुए इसे तय समय में पूरा करने का अनुरोध किया.



सीएम गहलोत भी समीक्षा में रखी अपनी बात
एलिवेटेड रोड की समीक्षा बैठक में मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा कि जोधपुर शहर में हार्ट लाइन पर भारी दबाव है. 70 हजार वाहन इस हार्ट लाइन पर चलते हैं. उन्होंने कहा कि हार्ट लाइन से तीन राष्ट्रीय राजमार्ग निकलते हैं. एलिवेटेड रोड हार्ट लाइन के ट्रैफिक का दबाव कम करने वाला महत्वपूर्ण प्रोजेक्ट है. उन्होंने कहा कि राज्य सरकार इस प्रोजेक्ट के लिए जो भी काम होंगे वो पूरा करेगी.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.