अपना शहर चुनें

States

जोधपुर: किराने की दुकान की आड़ में अंडर ग्राउंड में बना रखा था शराब का गोदाम, आबकारी विभाग ने मारा छापा

अंदर ग्राउंड में रखे 50 कार्टन देसी शराब के और 30 कार्टन अंग्रेजी शराब के बरामद किये गये हैं.
अंदर ग्राउंड में रखे 50 कार्टन देसी शराब के और 30 कार्टन अंग्रेजी शराब के बरामद किये गये हैं.

जोधपुर में आबकारी विभाग (Excise Department) ने देचू थाना इलाके में बड़ी कार्रवाई कर एक किराने की दुकान में अंडर ग्राउंड में बनाये गये अवैध शराब (Illegal liquor) के गोदाम का खुलासा किया है.

  • Share this:
जोधपुर. प्रदेश के भरतपुर जिले के रूपवास इलाके के गांव चक सामरी में जहरीली शराब (Poisonous liquor) से 8 लोगों की मौत के बाद पुलिस-प्रशासन और आबकारी विभाग की नींद टूटी है. इस दुखांतिका के बाद मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के निर्देश पर जोधपुर पुलिस और आबकारी विभाग लगातार एक्शन में नजर आ रहा है. आबकारी ने शराब का अवैध कारोबार करने वाले माफियाओं के खिलाफ सोमवार को बड़ी कार्रवाई (Big action) की है.

अतिरिक्त आबकारी आयुक्त जोधपुर जोन और जिला आबकारी के निर्देशन में सोमवार को फलोदी तथा इसके आसपास के क्षेत्रों में संयुक्त ट्रेड गश्त के दौरान अवैध शराब का कारोबार करने वाले एक आरोपी को दबोचा गया है. टीम ने देचू पुलिस थाना इलाके के अभयगढ़ निवासी करण सिंह के रिहायशी मकान में बनी किराने की दुकान के अंदर ग्राउंड में रखे 50 कार्टन देसी शराब के और 30 कार्टन अंग्रेजी शराब के बरामद किये हैं. टीम ने आरोपी के खिलाफ आबकारी अधिनियम में मामला दर्ज किया है. आबकारी निरोधक दल के अधिकारी शेर सिंह द्वारा इस कार्रवाई को अंजाम दिया गया.

जहरीली शराब का सेवन करने के बाद पीड़ितों की आंखों की रोशनी चली गई थी
उल्लेखनीय है कि गत सप्ताह भरतपुर के चक सामरी में जहरीली शराब पीने से आठ लोगों की मौत हो गई थी. जबकि कुछ लोग गंभीर रूप से बीमार हो गये थे. इस जहरीली शराब का सेवन करने के बाद पीड़ितों की आंखों की रोशनी चली गई थी. उसके बाद चेती राज्य सरकार ने करीब आधा दर्जन अधिकारियों को सस्पेंड कर दिया था और अवैध शराब का कारोबार करने वाले माफियाओं के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने के आदेश जारी किये थे. उसके बाद प्रदेशभर में शराब माफियाओं के खिलाफ ताबड़तोड़ छापामार कार्रवाई की जा रही है. इसके तहत शराब बनाने की भट्टियों को नष्ट किया जा रहा है. वहीं अवैध शराब का कारोबार करने वालों की धरपकड़ की जा रही है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज