Jodhpur Big News: एलिवेटेड रोड के सपनों को अब लगेंगे पंख, फिजिबिलिटी रिपोर्ट को मिली हरी झंडी

जोधपुर शहर में लगातार बढ़ते यातायात के दवाब को देखते हुये लंबे समय से एलिवेटेड रोड की मांग की जा रही है.

Good News of Jodhpur: जोधपुर शहर में बनने वाली 9.6 किलोमीटर लंबी एलिवेटेड रोड (Elevated road project) के अब जल्द ही धरातल पर उतर आने की उम्मीद बंधी है. इस बहुप्रतीक्षित प्रोजेक्ट की फिजिबिलिटी रिपोर्ट को एक्सपर्ट की हरी झंडी मिल गई है.

  • Share this:
जोधपुर. सीएम अशोक गहलोत (CM Ashok Gehlot) के गृहक्षेत्र जोधपुर शहर (Jodhpur City) की हॉट लाइन (Hotline) पर बढ़ रहे यातायात (Traffic) के दबाव को कम करने को लेकर बनाई जाने वाली एलिवेटेड रोड (Elevated road project) की फिजिबिलिटी रिपोर्ट को एक्सपर्ट की हरी झंडी मिल गई है. जोधपुर विकास प्राधिकरण ने फील्ड सर्वे रिपोर्ट और पुरानी डीपीआर केंद्रीय मंत्रालय की आई एक्सपर्ट टीम को सौंप दी. एक्सपर्ट अधिकारियों की टीम ने जेडीए(JDA) के अधिकारियों के साथ मिलकर इन रिपोर्ट्स को देखा. उसके बाद उसे हरी झंडी दे दी गई. इसके बाद अब बजट और डीपीआर को अपग्रेड करने का काम होगा. अब तक की कवायद से उम्मीद जगी है कि जल्द ही सनसिटी जोधपुर में यह प्रोजेक्ट मूर्त रूप ले लेगा.

केंद्रीय सड़क एवं परिवहन मंत्री नितिन गडकरी और मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के साथ अन्य नेताओं और इस प्रोजेक्ट से संबंधित विभिन्न अहम विभागों के अधिकारियों की कुछ दिन पहले वर्चुअल कॉन्फ्रेंस (Virtual Conference) हुई थी. इसमें मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने जोधपुर शहर में बनने वाली एलिवेटेड रोड के कार्य को तेजी से पूरा करने का आग्रह किया था. उसके बाद केंद्रीय सड़क एवं परिवहन मंत्री नितिन गडकरी ने जल्द एक्सपर्ट की टीम को जोधपुर भेजने की बात कही थी. इस कॉन्फ्रेंस के बाद नेशनल हाईवे अथॉरिटी ऑफ इंडिया और एलएनटी कंपनी के विशेषज्ञों ने जोधपुर का दौरा किया था.

यह है पूरे प्रोजेक्ट का खाका
- जोधपुर की एलिवेटेड रोड 9.6 किलोमीटर लंबी होगी.
- इसका 1100 करोड़ से अधिक का बजट है.
- यह एलिवेटेड रोड 3 प्रमुख हाइवे को मिलाएगी.
- इस एलिवेटेड रोड के लिये 2 बार डीपीआर बनी है.
- पिछले दिनों केंद्र सरकार ने एलिवेटेड रोड को बनाने की घोषणा की थी.
- उसके बाद इसके काम में तेजी आई है.

सियासत का शिकार हुआ है ये प्रोजेक्ट
उल्लेखनीय है कि जोधपुर राजस्थान में राजधानी जयपुर के बाद दूसरा सबसे बड़ा शहर है. यहां गत बरसों में यातायात का दबाव अत्यधिक रूप से बढ़ गया है. इससे कारण आये दिन सड़कों पर जाम के हालात पैदा होते रहते हैं. शहरवासियों की लंबे समय से मांग थी कि यह एलिवेटेड रोड की बनाई जाये. इसको लेकर बीजेपी और कांग्रेस में जमकर राजनीति हो चुकी है.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.