Home /News /rajasthan /

गैंगस्टर राजू फौजी पुलिस से बचने के लिये छिपा था भैंसों के तबेले में, पढ़ें गिरफ्तारी की कहानी

गैंगस्टर राजू फौजी पुलिस से बचने के लिये छिपा था भैंसों के तबेले में, पढ़ें गिरफ्तारी की कहानी

पुलिस ने इस मकाननुमा इस तबेले की घेराबंदी कर गैंगस्टर राजू फौजी को पकड़ा था.

पुलिस ने इस मकाननुमा इस तबेले की घेराबंदी कर गैंगस्टर राजू फौजी को पकड़ा था.

Raju fauji update news: राजस्थान पुलिस के लिये चुनौती बने राजू फौजी की गिरफ्तारी की कहानी किसी फिल्मी कहानी से कम नहीं है. राजू फौजी पुलिस से बचने के लिये जोधपुर-जयपुर रोड पर स्थित एक गांव में बने गाय-भैंस के तबेले मेंं छिपा हुआ था. पुलिस ने उसे सरेंडर करने के लिये कहा था लेकिन वह नहीं माना और अपनी आदत के अनुसार पुलिस पर फायर कर दिया. लेकिन पुलिस ने उसके जिंदा पकड़ने के लिये उसके पैर में गोली मारी और वह लड़खड़ाकर गिर गया.

अधिक पढ़ें ...

    जोधपुर. राजस्थान पुलिस के दो जवानों की हत्या के बाद फरार चल रहा कुख्यात तस्कर एवं गैंगस्टर राजू फौजी (Gangster Raju Fauji ) पुलिस से बचने के लिये गाय-भैसें बांधने के लिये बनाये गये तबेले में छिपा हुआ बैठा था. मकाननुमा इस तबेले को देखकर कोई अंदाजा भी नहीं लगा सकता था कि कुख्यात तस्कर इसमें पनाह लिये हुआ है. मौके पर पहुंची पुलिस भी एक बार इस तबेले को देखकर चकरा गई. उसे विश्वास नहीं हुआ लेकिन बाद में जब उसने तबेले के मालिक से पूछताछ की तो सच्चाई सामने आ गई. उसके बाद पुलिस ने एक्शन लेकर तस्कर राजू फौजी को गिरफ्तार कर लिया. राजू तस्कर पर एक लाख रुपये का इनाम घोषित है.

    दरअसल पुलिस शुक्रवार रात को तस्कर राजू फौजी की लोकेशन को ट्रेस करते हुये जोधपुर से जयपुर जाने वाली रोड पर स्थित खोखरिया गांव पहुंची थी. वहां एक टीनशैड का एक मकान बना हुआ था. पुलिस के पास राजू की लोकेशन यहीं पर ट्रैस हुई थी. लेकिन इस कच्चे पक्के से मकान को देखकर पुलिस चकरा गई. बाद में उसने मकान के बारे में जांच-पड़ताल की तो पता चला कि मकान लूणाराम नाम के व्यक्ति का है और वहां गाय-भैंसी बांधी जाती है.

    पुलिस ने राजू को सरेंडर करने को कहा लेकिन वह नहीं माना
    इस पर पुलिस ने लूणाराम को पकड़कर पूछताछ की. तब उसे विश्वास हुआ कि वह सही जगह पर आई है लेकिन उस समय राजू फौजी वहां नहीं था. वह शनिवार तड़के इस तबेले में पहुंचा. इस पर पुलिस ने तबेले को घेरकर राजू को सरेंडर करने को कहा लेकिन वह इसके लिये राजी नहीं हुआ और उसने पुलिस पर गोली चलाते हुये वहां से भागने का प्रयास किया.

    गोली लगने के बाद राजू फौजी ने दीवार फांदने की कोशिश की
    राजू की फायरिंग के जवाब में पुलिस ने भी गोली चलाई. पुलिस की गोली राजू के पैर में टखने के पास लगी. इसके बावजूद उसने दीवार फांदने की कोशिश की. इसके चक्कर में वह गिर पड़ा और उसे कई जगह चोटें आईं. इस पर पुलिस के जवानों ने उसे दबोच लिया. बाद में पुलिस ने मकान में सर्च ऑपरेशन चलाया और वहां से सबूत जुटाये.

    राजू फौजी को शनिवार रात को भीलवाड़ा लाया गया
    उल्लेखनीय है कि इस साल अप्रेल में राजू फौजी की पुलिस से मुठभेड़ हो गई थी. इस मुठभेड़ में दो पुलिसकर्मियों की मौत हो गई थी. उसके बाद राजू पुलिस को चकमा देकर फरार हो गया. पुलिस तभी उसे प्रदेशभर में उसकी तलाश में जुटी थी. कड़ी मशक्कत के बाद राजू पुलिस की गिरफ्त में आया है. घायल राजू को पहले इलाज के लिये जोधपुर भर्ती कराया गया था. उसके बाद शनिवार रात को उसे कड़ी पुलिस सुरक्षा में भीलवाड़ा लाया गया.

    Tags: Crime in Rajasthan, Rajasthan latest news

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर