लाइव टीवी

35 फर्जी कंपनियां बनाकर की 30 करोड़ की GST चोरी, मास्टर माइंड CA गिरफ्तार

Lalit Singh | News18 Rajasthan
Updated: November 1, 2019, 12:47 PM IST
35 फर्जी कंपनियां बनाकर की 30 करोड़ की GST चोरी, मास्टर माइंड CA गिरफ्तार
पकड़ा गया मास्टर मांइड गौरव माहेश्वरी जोधपुर के शंकर नगर का रहने वाला है. उसका राजधानी जयपुर में भी एक ऑफिस है. फोटो : न्यूज 18 राजस्थान ।

जोधपुर पुलिस (Jodhpur police) ने जीएसटी चोरी (GST) करने वाली गैंग का खुलासा किया है. गैंग में शामिल सीए गौरव माहेश्वरी (CA Gaurav Maheshwari) इसका मास्टर माइंड (Master mind) बताया जा रहा है. पुलिस ने उसे गिरफ्तार (Arrested) कर लिया है.

  • Share this:
जोधपुर. पुलिस ने जीएसटी चोरी (GST) करने वाली गैंग का खुलासा  किया है. गैंग में शामिल सीए गौरव माहेश्वरी (CA Gaurav Maheshwari) इसका मास्टर माइंड (Master mind) बताया जा रहा है. पुलिस ने उसे गिरफ्तार (Arrested) कर लिया है. गौरव ने अपने परिचितों, परिजनों और क्लाइंट्स के केवाईसी से 35 फर्जी कंपनियां (Fake companies) बना ली. बाद उसमें 99 करोड़ का फर्जी ट्रांजेक्शन (Fake transaction) दिखाकर 30 करोड़ से ज्यादा जीएसटी चोरी कर डाली.

सीए ने जयपुर में भी ऑफिस खोल रखा है
जोधपुर पुलिस को लंबे समय से जीएसटी चोरी करने वाली गैंग की सूचना मिल रही थी. पुलिस ने जब इस मामले की जांच की तो जीएसटी चोरी करने वाली इस गैंग के मास्टर मांइड के रूप में सीए गौरव माहेश्वरी का नाम सामने आया. इस पर पुलिस ने उसकी पूरी कुंडली निकाली. शहर की सरदारपुरा पुलिस ने सीए गौरव माहेश्वरी को फर्जी फर्म के नाम पर साइन करके 3 करोड़ रुपए निकालने के मामले में गिरफ्तार कर लिया. पकड़ा गया मास्टर मांइड गौरव माहेश्वरी जोधपुर के शंकर नगर का रहने वाला है. उसका राजधानी जयपुर में भी एक ऑफिस है. गुरुवार को पुलिस को सीए गौरव माहेश्वरी के एक कार्यक्रम में शामिल होने की सूचना मिली थी. इस पर पुलिस ने उसे वहां धर दबोचा.

99 करोड़ रुपए के फर्जी ट्रांजेक्शन किए

थानाधिकारी लिखमाराम ने बताया कि जीएसटी चोरी गैंग का मास्टर माइंड गौरव माहेश्वरी ने 35 लोगों के नाम से फर्जी कंपनियां बना रखी है. उनके जरिए गौरव ने 99 करोड़ रुपए के फर्जी ट्रांजेक्शन किए. इस पूरी कार्रवाई के जरिए सीए गौरव ने करीब 30 करोड़ रुपए की जीएसटी राशि का गबन कर सेंट्रल व स्टेट टैक्स डिपार्टमेंट को नुकसान पहुंचाया है. पुलिस गौरव से पूछताछ में जुटी है ताकि इसमें लिप्त अन्य लोगों का भी पता लगाया जा सके. पुलिस इस बात का भी पता लगाने में जुटी है कि इसमें  किसी सरकारी कर्मचारी की भी मिलीभगत है या नहीं.

पॉक्सो कोर्ट ने एक और रेपिस्ट को धकेला सलाखों के पीछे, नाबालिग से किया था रेप

दौसा में भीषण सड़क हादसा, चूरू ASP के पिता और चचेरे भाई की मौत

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए जोधपुर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 1, 2019, 12:43 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...