कोरोना का ऐसा कहर नहीं देखा और कहीं, इस शहर में हर 2 म‍िनट में एक व्‍यक्‍त‍ि हो रहा है कोव‍िड पॉजिट‍िव

हिमाचल में कोरोना का कहर.

हिमाचल में कोरोना का कहर.

Rajasthan News: इस वर्ष जो कोरोना की लहर चल रही है उस में संक्रमण की रफ्तार काफी तेज है यदि परिवार में कोई एक व्यक्ति संक्रमित होता है और समय पर आइसोलेट नहीं होता है तो वह पूरे परिवार के संपर्क में आए लोगों को काफी तेजी से संक्रमित कर रहा है.

  • Share this:
राजस्‍थान के जोधपुर में कोरोना संक्रमण रोज अपना नया रिकॉर्ड बना रहा है. शहर में सीएमएचओ की रिपोर्ट के अनुसार, 770 कोरोना संकमण के नए मामले सामने आए, साथ ही 4 मरीजो की ओर कोरोना संक्रमण से मौत हो गई. हालात यहां तक पहुंच गए है कि शहर में हर दो मिनट में एक व्यक्ति कोरोना पॉजिटिव होने लगा है.

आईआईटी के बाद एक हॉस्टल में 22 स्टूडेंट्स पॉजिटिव

जोधपुर आईआईटी में एक के बाद एक 74 कोरोना पॉजिटिव स्टूडेंट्स की संख्या आने के बाद अब शहर के राजपुरोहित समाज के हॉस्टल में भी कोरोना विस्फोट सामने आया है. राजपुरोहित समाज के हॉस्टल में रहने वाले 22 स्टूडेंट में कोरोना संक्रमण की पुष्टि हुई है. हॉस्टल में कोरोना विस्फोट होने के बाद हॉस्टल को कंटेनमेंट जोन घोषित कर दिया है. साथ ही सभी 22 स्टूडेंट को हॉस्टल में ही आइसोलेट किया गया है.

Youtube Video

पिछले साल से तेज हुई संक्रमण की रफ्तार

इस वर्ष जो कोरोना की लहर चल रही है उस में संक्रमण की रफ्तार काफी तेज है यदि परिवार में कोई एक व्यक्ति संक्रमित होता है और समय पर आइसोलेट नहीं होता है तो वह पूरे परिवार के संपर्क में आए लोगों को काफी तेजी से संक्रमित कर रहा है. प्रतिदिन संक्रमित का आंकड़ा बढ़ने के पीछे कारण भी यही है छात्रावास में एक साथ इतने लोगों का संक्रमित आना और इससे पहले आईआईटी में भी छात्रों का संक्रमित होना इसी का उदाहरण है.

कोविड वैक्सीन के बाद रेमडेसिविर इंजेक्शन की कमी



जोधपुर शहर में जहां कोरोना वैक्सीन का स्टॉक खत्म हो होने का मामला अभी खत्म ही नहीं हुआ कि कोरोना के गंभीर मरीजों के लिए रामबाण दवा साबित हुए इंजेक्शन रेमडेसिविर की कमी होने लगी है. बाजार में यह इंजेक्शन उपलब्ध नहीं है. सिर्फ सरकारी अस्पतालों में ही यह इंजेक्शन मिल रहा है, लेकिन सरकारी अस्पतालों में भी धीरे धीरे इंजेक्शन की कमी होने लगी है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज