जोधपुर सहित छह शहरों में मास्टर प्लान की दुर्दशा पर हाईकोर्ट ने जताया असंतोष

जोधपुर हाईकोर्ट.
जोधपुर हाईकोर्ट.

जोधपुर सहित राजस्थान के छह प्रमुख शहरों में मास्टर प्लान की दुर्दशा को लेकर दायर एक जनहित याचिका की सुनवाई करते हुए हाईकोर्ट ने असंतोष जाहिर किया है.

  • Share this:
जोधपुर सहित राजस्थान के छह प्रमुख शहरों में मास्टर प्लान की दुर्दशा को लेकर दायर एक जनहित याचिका की सुनवाई करते हुए हाईकोर्ट ने असंतोष जाहिर किया है.

हाईकोर्ट ने मौखिक रूप से कहा कि मास्टर प्लान के अनुसार विकास कार्य करना था लेकिन हाईकोर्ट के आदेशों का पालन नहीं किया जा रहा है. यह याचिका गुलाब कोठारी ने दाखिल की है.

जस्टिस संगीत लोढ़ा व जस्टिस अरूण भंसाली की विशेष खंडपीठ ने मामले की सुनवाई के दौरान जोधपुर शहर के हालातों को लेकर नाराजगी जाहिर की.



नगर निगम कमिश्नर ओम प्रकाश कसेरा आज रिकार्ड के साथ अदालत में उपस्थित हुए. सड़कों की चौड़ाई घटाने के मामले में नाराजगी जाहिर करने पर निगम की ओर से अंडरटेंकिग दी गई कि नेहरू पार्क रोड व पावटा सी रोड पर आगे दुकानों का निर्माण कार्य नहीं किया जाएगा.
इस पर कोर्ट ने 28 जुलाई को सुनवाई मुलतवी कर दी. अतिरिक्त महाधिवक्ता राजेश पंवार व जेडीए व निगम के अधिकारी मौजूद रहे. वहीं न्यायमित्र वरिष्ठ अधिवक्ता एमएस सिंघवी ने पैरवी करते हुए कहा कि सरकार आदेशों का पालन नहीं कर रही हैं.

न तो जोनल प्लान बनाया है और न ही सेक्टर प्लान तैयार किया गया. केवन निर्माण कार्य किया जा रहा है. इस पर हाईकोर्ट ने नाराजगी जाहिर करते हुए कहा कि क्या कर रहे हैं आप, केवल आदेशों की अवहेलना के अलावा कोई काम नहीं हो रहा है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज