जोधपुर में कौवों की मौत से बर्ड फ्लू की आशंका गहराई, पशु चिकित्सा विभाग अलर्ट

पिछले चार दिन के दौरान जोधपुर शहर के अलग-अलग हिस्सों में बड़ी संख्या में कौवे मृत पाए गए हैं

पिछले चार दिन के दौरान जोधपुर शहर के अलग-अलग हिस्सों में बड़ी संख्या में कौवे मृत पाए गए हैं

शनिवार को जोधपुर (Jodhpur) के चोखा व लाल सागर इलाके से पांच ओर मृत कौवे (Dead Crows) मिले है. इन्हें मिलाकर पिछले चार दिनों में शहर के कई इलाकों में 157 कौवे मृत मिले हैं. पशु चिकत्सा विभाग के डॉक्टरों ने मृत पक्षियों के सैंपल लिए हैं. जोधपुर के वन्य जीव विभाग के अलावा पशु चिकित्सा विभाग ने अलर्ट घोषित किया है

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 2, 2021, 4:11 PM IST
  • Share this:

जोधपुर. राजस्थान के जोधपुर शहर (Jodhpur) में बर्ड फ्लू (Bird Flu) का खतरा मंडरा रहा है. इसकी आशंका को देखते हुए पशु चिकित्सा विभाग अलर्ट मोड में आ गया है. पिछले चार दिनों के दौरान यहां सैकड़ों कोवे अलग-अलग स्थानों पर मृत (Dead Crows) मिले हैं. इसके अलावा झालावाड़ (Jhalawar) और अन्य जगहों पर भी कौवों की मौत से बर्ड फ्लू की आशंका गहरा गई है. विभाग ने मृत कौवों के सैंपल भोपाल स्थित लैब (Bhopal Lab) में भेजे हैं जिनकी रिपोर्ट आने पर ही बर्ड फ्लू की पुष्टि होगी.

जोधपुर शहर में कोरोना वायरस संक्रमण का खतरा अभी खत्म नहीं हुआ था कि यहां बर्ड फ्लू की आशंका गहराने लगी है. पिछले चार दिनों में शहर के कई इलाकों में 157 कौवे मृत मिले हैं. जोधपुर के वन्य जीव विभाग के अलावा पशु चिकित्सा विभाग ने अलर्ट घोषित किया है. शनिवार को जोधपुर के चोखा व लाल सागर इलाके से पांच ओर मृत कौवों के मिलने से हड़कंप मच गया है. पशु चिकत्सा विभाग के डॉक्टरों ने इनके सैंपल लिए हैं.

पशु चिकित्सा के डॉक्टरों के मुताबिक एवियन इन्फ्लूएंजा एक तरह से बर्ड फ्लू जैसा होता है. यह वायरस जनित बीमारी है जो एक पक्षी से दूसरे पक्षी में फैलता है. इसमें ज्यादातर पक्षियों की मौत हो जाती है. यह वायरस पक्षियों से इंसानों में भी फैल सकता है लिहाजा प्रदेश में कौवों की लगातार हो रही मौत से बर्ड फ्लू की आशंका जताई जा रही है. हालांकि वन्य जीव विभाग और पशु चिकित्सा विभाग अलर्ट पर है. भोपाल स्थित लैब से रिपोर्ट आने के बाद ही इस विषय पर कुछ भी कहा जा सकेगा. हालांकि तब तक यह दोनों विभाग अलर्ट पर हैं.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज