लाइव टीवी

जोधपुर: स्कूल बस और ट्रक में भिड़ंत, मासूम छात्र की मौत, बवाल मचा, रास्ता जाम

Chandra Shekhar Vyas | News18 Rajasthan
Updated: December 5, 2019, 12:37 PM IST
जोधपुर: स्कूल बस और ट्रक में भिड़ंत, मासूम छात्र की मौत, बवाल मचा, रास्ता जाम
मृतक छात्र के परिजनों को प्रशासन ने एक लाख और निजी स्कूल के प्रबंधन ने 5 लाख रुपए की सहायता देने की घोषणा की है.

जोधपुर (Jodhpur) जिले के ओसियां (Osian) इलाके में गुरुवार को स्कूल बस और ट्रक में हुई भिड़ंत (School bus & truck clashed) में एक मासूम छात्र की मौत (Death) हो गई. हादसा स्कूल बस द्वारा ट्रक को ओवरटेक (Overtake) करने के चक्कर में हुआ. इसके कारण सड़क किनारे खड़ा बस का इंतजार कर रहा मासूम मौत का शिकार हो गया.

  • Share this:
जोधपुर. जिले के ओसियां (Osian) इलाके में गुरुवार को स्कूल बस और ट्रक में हुई भिड़ंत (School bus & truck clashed) में एक मासूम छात्र की मौत (Death) हो गई. हादसा स्कूल बस द्वारा ट्रक को ओवरटेक (Overtake) करने के चक्कर में हुआ. इसके कारण सड़क किनारे खड़ा बस का इंतजार कर रहा मासूम मौत का शिकार हो गया. इससे गुस्साई भीड़ (Angry mob) ने ट्रक चालक को मौके पर ही पकड़कर उसकी जोरदार धुनाई (Beating) कर दी, जबकि बस चालक फरार हो गया. आक्रोशित ग्रामीणों ने रास्ता जाम (Jam) कर दिया. स्थिति को बिगड़ती देखकर पुलिस-प्रशासन (Police-administration) के आला अधिकारी मौके पर पहुंचे और मामले का शांत करवाया. मृतक छात्र के परिजनों को प्रशासन ने एक लाख और निजी स्कूल के प्रबंधन ने 5 लाख रुपए की आर्थिक सहायता देने की घोषणा की है.

बासनी धुंधाड़िया रोड पर हुआ हादसा
जानकारी के अनुसार घटना ओसियां इलाके में गुरुवार को सुबह बासनी धुंधाड़िया रोड पर सुबह हुई. हादसे का शिकार हुआ धुंधाड़ा मेघवालों की ढाणी निवासी लक्ष्मण मेघवाल पुत्र चिमाराम (6) बासनी गांव जाने के लिए बस के इंतजार में सड़क किनारे खड़ा था. इसी दौरान निजी थार स्कूल की बस ने आगे चल रहे ट्रक को ओवरटेक करने के चक्कर में उसे अपनी चपेट में ले लिया. बाद में बस ट्रक से जा टकराई. इससे लक्ष्मण की मौके पर ही मौत हो गई. लक्ष्मण बासनी गांव में स्थित राजकीय उच्च प्राथमिक विद्यालय में प्रथम कक्षा में पढ़ता था.

स्कूल बस में 90 बच्चे भरे हुए थे

हादसा होते ही वहां ग्रामीणों की भारी भीड़ एकत्र हो गई. गुस्साई भीड़ ने ट्रक को चालक को पकड़ लिया और उनकी जमकर पिटाई कर डाली. हालात को भांपकर स्कूल बस का चालक मौके से भाग छूटा. बाद में आक्रोशित लोगों ने वहां रास्ता जाम कर दिया. सूचना पर ओसिया थाना पुलिस मौके पर पहुंची. बाद में हालात बिगड़ने की जानकारी मिलने पर उपखंड अधिकारी रतनलाल रैगर भी मौके पर पहुंचे. इस बीच एक-दो ग्रामीणों ने वहां पुलिस पर पत्थर फेंक दिए इससे हालात बिगड़ने लगे. लेकिन पुलिस ने समय रहते उस पर काबू पा लिया. स्कूल बस में 90 बच्चे भरे हुए थे.

मृतक के परिवार को 6 लाख रुपए की आर्थिक सहायता की घोषणा
पुलिस-प्रशासन ने तत्काल मृतक छात्र को मुख्यमंत्री सहायता कोष से 1 लाख रुपए की आर्थिक सहायता देने की घोषणा कर मामले को शांत करने का प्रयास किया, लेकिन ग्रामीण माने नहीं. बाद में निजी स्कूल के प्रशासन ने भी मृतक छात्र के परिवार को 5 लाख रुपए की आर्थिक सहायता की घोषणा की तब जाकर ग्रामीण शांत हुए.पंचायत चुनाव: तय समय पर होना मुश्किल ! नियुक्त हो सकते हैं प्रशासक

राहतभरी खबर: प्रदेश में राशन की दुकानें अब महीने में 30 दिन खुलेंगी

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए जोधपुर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: December 5, 2019, 12:31 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर