जोधपुर: काला हिरण शिकार मामले में HC में सुनवाई टली, अब 25 नवंबर को होगी
Jodhpur News in Hindi

जोधपुर: काला हिरण शिकार मामले में HC में सुनवाई टली, अब 25 नवंबर को होगी
इन सभी सह-आरोपियों पर सलमान खान को हिरण शिकार के लिए उकसाने का आरोप था.

काला हिरण शिकार (Blackbuck hunting case) मामले में सरकार (Government) की ओर से जोधपुर हाईकोर्ट (Jodhpur High Court) में पेश की गई अपील (Appeal) पर मंगलवार को होने वाली सुनवाई (Hearing) समय के अभाव में टल गई. अब आगामी 25 नवंबर को सुनवाई होगी.

  • Share this:
जोधपुर. काला हिरण शिकार (Blackbuck hunting case) मामले में सरकार (Government) की ओर से जोधपुर हाईकोर्ट (Jodhpur High Court) में पेश की गई अपील (Appeal) पर मंगलवार को होने वाली सुनवाई (Hearing) टल गई.  सुनवाई जस्टिस मनोज कुमार गर्ग (Justice Manoj Kumar Garg) की कोर्ट में होनी थी, लेकिन समय अभाव के चलते वह नहीं हो पाई. अब आगामी 25 नवंबर को सुनवाई होगी. इस मामले में सह-आरोपी फिल्म अभिनेता सैफ अली खान (Film actor Saif Ali Khan), अभिनेत्री नीलम, तब्बू, सोनाली (Actresses Neelam, Tabu, Sonali) और दुष्यंत सिंह को सीजेएम ग्रामीण कोर्ट (CJM Rural Court) ने संदेह का लाभ देकर बरी कर दिया था. सरकार इस फैसले के खिलाफ हाईकोर्ट गई है.

सह-आरोपियों पर हिरण शिकार के लिए उकसाने का आरोप था
करीब दो दशक पहले फिल्म अभिनेता सलमान खान पर जोधपुर के कांकानी गांव में दो काला हिरणों के शिकार का आरोप लगा था. शिकार प्रकरण के दौरान सलमान खान की जिप्सी में फिल्म अभिनेता सैफ अली खान, अभिनेत्री नीलम, तब्बू, सोनाली और दुष्यंत कुमार भी मौजूद थे. इन सभी सह-आरोपियों पर सलमान खान को हिरण शिकार के लिए उकसाने का आरोप था.

सीजेएम ग्रामीण कोर्ट के फैसले के खिलाफ हाईकोर्ट गई है सरकार
इनको सीजेएम ग्रामीण कोर्ट के तत्कालीन पीठासीन अधिकारी देव कुमार खत्री ने संदेह का लाभ देते हुए बरी कर दिया था. लेकिन सरकार की ओर से हाईकोर्ट में सीजेएम ग्रामीण कोर्ट के फैसले के खिलाफ अपील पेश की गई थी, जिस पर मंगलवार को सुनवाई होनी थी. इस मामले में विश्नोई समाज की ओर से जहां अधिवक्ता महिपाल बिश्नोई पैरवी कर रहे हैं, वहीं अभिनेता सैफ अली खान, अभिनेत्री नीलम और सोनाली की तरफ से अधिवक्ता केके व्यास पक्ष रख रहे हैं.



ये था हिरण शिकार का पूरा मामला
फिल्म 'हम साथ साथ हैं' की शूटिंग के दौरान वर्ष 1998 में सलमान खान और सह कलाकारों पर 12 और 13 अक्टूबर की मध्य रात्रि में कांकाणी गांव की सरहद पर दो काले हिरणों का शिकार करने का आरोप लगा था. उसके बाद इस मामले में सुनवाई करते हुए निचली अदालत ने करीब दो दशक बाद सलमान खान को 5 साल की सजा सुनाई थी, जबकि सह-आरोपियों को संदेह का लाभ देते हुए बरी कर दिया था.

काला हिरण शिकार केस में सलमान खान को मिली हाजिरी माफी, वकील ने दी ये दलीलें

महज ढाई से तीन सैकेंड में हुआ मासूम की जिंदगी और मौत का फैसला, देखें वीडियो

 
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज