HC बैंच ने की पाकिस्तानी हिंदुओं के वीजा पर विशेष सुनवाई, सिफर रहा नतीजा

राजस्थान हाईकोर्ट की जोधपुर खंडपीठ.
राजस्थान हाईकोर्ट की जोधपुर खंडपीठ.

जोधपुर हाईकोर्ट की बैंच द्वारा छुट्टी के दिन पाकिस्तानी हिंदुओं के वीजा मामले में विशेष सुनवाई के बावजूद उन्हें वापस लौटना पड़ा.

  • Share this:
जोधपुर हाईकोर्ट की बैंच द्वारा छुट्टी के दिन पाकिस्तानी हिंदुओं के वीजा मामले में विशेष सुनवाई के बावजूद उन्हें वापस लौटना पड़ा. हाईकोर्ट ने पाकिस्तानी हिन्दुओं के लिए 13 साल बाद एक बार फिर इतिहास को दोहराते हुए अवकाश के दिन हाईकोर्ट की विशेष बैंच का गठन कर सुनवाई की. हाईकोर्ट ने यह स्पष्ट आदेश दिए कि किसी भी सूरत में पाकिस्तानी हिन्दुओं को भारत की सीमा पार नहीं करने दी जाए. लेकिन जब तक हाईकोर्ट ने आदेश दिए देर हो चुकी थी. हाईकोर्ट की यह ऐतिहासिक पहल और पाक विस्थापितों के लिए संघर्ष करने वाले हिन्दू सिंह सोढा के प्रयास सफल नहीं हो पाए.

दरअसल पाकिस्तान से 9 हिन्दू नागरिक जोधपुर में शार्ट टर्म वीजा पर आए हुए थे. वीजा अवधि समाप्त होने केे बाद वे वापस पाकिस्तान नहीं जाना चाहते थे. इस बात को लेकर पाकिस्तान निवासी चंदू भील ने हाईकोर्ट में एक याचिका लगाकर शाॅर्ट टर्म वीजा को लांग टर्म वीजा मे तब्दील करने की गुहार लगाई थी. जिसे लेकर न्यायालय में मामला लंबित था. लेकिन शुक्रवार को वीजा अवधि समाप्त होने के चलते पूरे परिवार को थार एक्स्प्रेस में बैठाकर रवाना कर दिया गया था. जिसे लेकर पाकिस्तानी हिन्दुओं के लिए संघर्ष करने वाले हिन्दूसिंह सोढ़ा ने हाईकोर्ट रजिस्ट्रार के समक्ष स्पेशल सुनवाई की अपील की थी.

अपील स्वीकार करते हुए विद्वान न्यायाधीश व हाईकोर्ट सीजे प्रदीप नन्द्राजोग ने स्पेशल बैंच का गठन करने के आदेश दिए. शनिवार को हाईकोर्ट जस्टिस विजय विश्नोई ने सुनवाई करते हुए, किसी भी सूरत में थार एक्सप्रेस से परिवार को उतारने और डिपोर्ट नहीं किए जाने के आदेश अतिरिक्त महाअधिवक्ता कांतिलाल ठाकुर को दिए. एएजी ठाकूर ने सभी संबंधित विभागों के अधिकारियों को इसकी तुरंत सूचना दी. लेकिन तब तक बहुत देर हो चुकी थी और पाकिस्तान की ज्यादतियों से परेशान परिवार फिर नर्क में पहुंच गया था.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज