Home /News /rajasthan /

न बैंड-बाजा न बाराती, 17 मिनट में बिरादरी से बाहर हुई ये अनूठी शादी

न बैंड-बाजा न बाराती, 17 मिनट में बिरादरी से बाहर हुई ये अनूठी शादी

अनूठी शादी की मिसाल पेश करने वाले शिक्षक महेंद्र और मीरा.

अनूठी शादी की मिसाल पेश करने वाले शिक्षक महेंद्र और मीरा.

बिना दहेज अंतरजातीय विवाह करने वाले शिक्षक की यह शादी महज 17 मिनट में पूरी हो गई. इतना ही नहीं इस शादी में न बैंड बजा न ही बाराती शामिल हुए.

    दहेज, जाति-पाति, ऊंच-नीच जैसी तमाम बुराइयों को दरकिनार करते हुए एक शिक्षक ने राजस्थान में सादगी भरी शादी की मिसाल पेश की.
    बिना दहेज अंतरजातीय विवाह करने वाले शिक्षक की यह शादी महज 17 मिनट में पूरी हो गई. इतना ही नहीं इस शादी में न बैंड बजा न ही बाराती शामिल हुए.
    हम बात कर रहे हैं राजस्थान के जोधपुर जिले के पीपाड़ कस्बे के महेंद्र सिंह चौधरी और उनकी मीरा मेघवाल से शादी की. जहां एक तरफ जातिवाद वह दहेज समाज में नासूर बना हुआ है वहीं महेंद्र न केवल जातिवाद को दरकिनार कर अनुसूचित जाति में विवाह किया है बल्कि बेहद साधारण पोशाक और दहेज रहित शादी कर अनूठी मिसाल पेश की है. शिक्षक की अंतरजातीय शादी पीपाड़ ही नहीं पूरे जोधपुर अंचल में चर्चा का विषय बनी हुई है.

    गंगानगर की मीरा के घर बिना बारात पहुंचे महेंद्र
    पीपाड़ के लवारी गांव के महेंद्र एक सरकारी स्कूल में बतौर शिक्षक बच्चों को शिक्षा देते हैं. और इस शादी के साथ ही उन्होंने पूरे समाज के लिए अनूठी मिसाल पेश की है.  महेंद्र सिंह चौधरी ने गंगानगर जिले में रहने वाली मेघवाल समाज की मीरा मेघवाल से शादी की है और वो भी बिना दहेज. मीरा ने बताया कि वो इतनी सादगी से शादी करना चाहते थे कि न घोड़ी पर बैठकर आए और न लंबी चौड़ी बारात, बस परिवार के गिने-चुने सदस्यों के साथ शादी करने पहुंच गए.

    न फेरे न पूजा-पाठ बस अमृतवाणी सुनी और हो गई शादी
    महेंद्र के परिवार के सदस्यों के अनुसार वे पूरे विधि-विधान से शादी करना चाहते थे लेकिन महेंद्र की इच्छा ऐसा नहीं चाहते थे. उन्होंने संत रामपाल महाराज की तस्वीर के आगे बैठकर अमृतवाणी के उच्चारण से 17 मिनट में ही शादी कर ली.

    Tags: Jodhpur News, Rajasthan news

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर