जोधपुर : कोरोना की रोकथाम के लिए केंद्रीय मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत ने सांसद निधि से दिए 50 लाख रुपये

केंद्रीय मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत ने कोरोना से जंग के लिए जोधपुर को दिए 50 लाख रुपये. (फाइल फोटो)

केंद्रीय मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत ने कोरोना से जंग के लिए जोधपुर को दिए 50 लाख रुपये. (फाइल फोटो)

केंद्रीय जल शक्ति मंत्री और जोधपुर सांसद गजेंद्र सिंह शेखावत ने अपनी सांसद निधि का एक हिस्सा कोरोना के खिलाफ लड़ाई के लिए स्वीकृत किया है. इससे ऑक्सीजन कंसट्रेंटर और अन्य जीवनरक्षक दवाएं खरीदी जाएंगी.

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 24, 2021, 6:36 PM IST
  • Share this:
जोधपुर. केंद्रीय जलशक्ति मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत ने कोरोना की रोकथाम के लिए अपनी सांसद निधि से 50 लाख रुपये की त्वरित सहायता उपलब्ध कराई है. शेखावत ने कहा कि जोधपुर जिला परिषद के मुख्य कार्यकारी अधिकारी इस राशि से ऑक्सीजन कंसट्रेंटर और अन्य जीवनरक्षक दवाएं खरीद सकेंगे. सांसद निधि से होने वाली खरीद के लिए जोधपुर जिला परिषद के सीईओ को अधिकार दिया गया है.

जीतेंगे हम, हारेगा कोरोना : शेखावत

शुक्रवार को केंद्रीय मंत्री ने कहा कि कोरोना की दूसरी लहर हम सबके लिए चिंता का विषय है. हमें धैर्य बनाए रखते हुए एक-दूसरे की हरसंभव सहायता करनी होगी. यह जरूरी है कि संक्रमितों को उचित चिकित्सा तत्काल उपलब्ध हो और दवाओं में कमी न आए. उन्होंने कहा कि वर्तमान परिस्थिति को ध्यान में रखते हुए ही कोरोना की रोकथाम के लिए सांसद निधि से 50 लाख रुपये की त्वरित सहायता उपलब्ध कराई है.उन्होंने कहा कि जीतेंगे हम-हारेगा कोरोना.

लगातार दूसरे वर्ष सांसद निधि कोरना पर की खर्च
केंद्रीय मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत पिछले ने पिछले वर्ष भी अपनी सांसद निधि का एक बड़ा हिस्सा कोरना के खिलाफ जंग के लिए जिला प्रशासन को आवंटित कर दिया था. पिछले वर्ष शेखावत की सांसद निधि से मेडिकल उपकरण, वेंटिलेटर, मास्क, सैनेटाइजर और अन्य जीवनरक्षक दवाओं की खरीद की गई थी. इस वर्ष दी गई राशि से ऑक्सीजन कंसट्रेंटर और अन्य जीवनरक्षक दवाएं खरीदी जाएंगी.

जोधपुर दौरे के दौरान लिया था कोरोना अपडेट

गौरतलब है कि 19 अप्रैल को केंद्रीय मंत्री शेखावत जोधपुर आए थे. जोधपुर में तेजी से फैल रहे कोरोना संक्रमितों और मृत्यु दर का ग्राफ बढ़ता हुआ देखकर केंद्रीय मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत बंगाल चुनाव प्रचार बीच में छोड़कर जोधपुर पहुंचे थे. जोधपुर पहुंचते ही शेखावत ने जिला और संभागस्तरीय अधिकारियों की एक हाई लेवल मीटिंग बुलाई थी, जिसमें जोधपुर शहर में कोरोना संक्रमण की स्थिति और प्रशासन की ओर से की जा रही कोशिशों को लेकर फीडबैक लिया था. बैठक के दौरान शेखावत ने अधिकारियों को कहा था कि किसी भी चीज की जरूरत पड़ने पर वे सीधे उन्हें फोन कर सकते हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज