Home /News /rajasthan /

जब लेडी अफसर भी साफा पहन पहुंचीं दफ्तर

जब लेडी अफसर भी साफा पहन पहुंचीं दफ्तर

राजस्थान के जोधपुर संभाग में बुधवार को हर कोई साफा पहने नजर आया.

राजस्थान के जोधपुर संभाग में बुधवार को हर कोई साफा पहने नजर आया.

राजस्थान के जोधपुर संभाग में बुधवार को हर कोई साफा पहने नजर आया.

    राजस्थान के जोधपुर संभाग में बुधवार को हर कोई साफा पहने नजर आया. आमजन से सरकारी अफसर भी साफे के रंग में रंगे दिखे फिर चाहे महिला हों या पुरुष. ऐसा ही रंग पीपाड़ पंचायत समिति में भी देखने को मिला.

    पीपाड़ पंचायत समिति में राजस्थान राज्य ग्रामीण विकास सेवा के विकास अधिकारी के पद पर कार्यरत महिला अधिकारी चिदम्बरा परमार साफा पहन कर कार्यालय पहुंचीं. महिला अधिकारी ने दिन भर सिर पर साफा बांधे हुए ही सरकारी कामकाज निपटाए और उन्हें देख कई लोग अचंभे में पड़ते नजर आए. वहीं कई लोगों ने उनसे प्रेरणा लेकर आज पूरे दिन साफा भी बांधा.

    दरअसल, जोधपुर जिला प्रशासन की ओर से आयोजित किए जा रहे मारवाड़ महोत्सव के तहत को संपूर्ण जिले में साफा दिवस का आयोजन किया गया. मारवाड़ की संस्कृति और विरासत को समृद्ध बनाने और इस परंपरा को आगे बढ़ाने के लिए जिला प्रशासन की ओर से यह उत्सव मनाया जा रहा है. इसके तहत जोधपुर जिला कलेक्टर डॉक्टर रवि कुमार सुरपुर ने बुधवार को जिले के सभी लोगों से सिर पर मारवाड़ी आन-बान-शान का प्रतीक साफा बांधने का आहवान किया था.

    चिदम्बरा परमार के अनुसार साफा हमारी वीरता और इज्जत का प्रतीक है और इसे केवल पुरुष ही नहीं बल्कि महिलाएं भी पहनकर अपनी सामाजिक संस्कृति को मजबूत एवं अक्षुण्य बना सकती हैं. वहीं दूसरी ओर भोपालगढ उपखंड अधिकारी डॉक्टर अभिलाषा चौधरी को साफा पहन कर अपने कार्यालय में कामकाज करते हुए जिन लोगों ने भी देखा वे एकबारगी आश्चर्य में पड़ गए. जब उन्हें मारवाड़ समारोह एवं जिला कलेक्टर की अपील के बारे में जानकारी हुई तो कई लोगों ने एवं खासकर युवा वर्ग ने भी साफा पहनने का संकल्प किया. और फिर पूरे दिन कई लोगों ने साफे भी बांधे.

    Tags: Jodhpur News, Rajasthan news

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर