Lockdown: सीएम गहलोत ने सुनी एक मां की पुकार, बेटी की करवायी सकुशल घर वापसी, मां ने कहा- 'Thank you sir'

जब प्रशासन ने कोई सुनवाई नहीं की तो उषा जैन ने सीएम अशोक गहलोत को ट्वीट कर मदद मांगी.
जब प्रशासन ने कोई सुनवाई नहीं की तो उषा जैन ने सीएम अशोक गहलोत को ट्वीट कर मदद मांगी.

एक मां की पुकार सुनकर सीएम अशोक गहलोत ने लॉकडाउन (Lockdown) में बेंगलुरु में फंसी हुई जोधपुर की छात्रा को घर पहुंचाया है. बेटी के घर पहुंचने के बाद अब छात्रा और उसकी मां सीएम को थैंक्स कहते हुए नहीं थक रही हैं.

  • Share this:
जोधपुर. एक मां की पुकार सुनकर सीएम अशोक गहलोत ने लॉकडाउन (Lockdown) में बेंगलुरु में फंसी हुई जोधपुर की छात्रा को घर पहुंचाया है. बेटी के घर पहुंचने के बाद अब छात्रा और उसकी मां सीएम को थैंक्स कहते हुए नहीं थक रही हैं. छात्रा की मां जब बेटी की वापसी के सभी जतन करके थक गई तो उसने सीएम अशोक गहलोत (CM Ashok Gehlot) से गुहार लगाई थी.

छात्रा बेंगलुरु में रहकर पढ़ाई कर रही है
छात्रा अभिलाषा जोधपुर की रहने वाली है और वह बेंगलुरु में रहकर वहां पढ़ाई कर रही है. लॉकडाउन के चलते वह बेंगलुरु में अपने हॉस्टल में फंसकर रह गई थी. इस पर अभिलाषा की मां उषा जैन ने उसकी जोधपुर वापसी के लिए खूब प्रयास किये. लेकिन वह अपने इन प्रयासों में सफल नहीं हो पाई. जब प्रशासन ने कोई सुनवाई नहीं की तो उषा जैन ने सीएम अशोक गहलोत को ट्वीट कर मदद मांगी.

अभिलाषा समेत करीब 40 बच्चे अलग-अलग जगहों से जोधपुर पहुंचे
सीएम गहलोत ने भी एक मां की पुकार को सुनकर तुरंत उनकी बेटी की घर वापसी की व्यवस्था करवाई. अब अभिलाषा और उसकी मां उषा जैन सीएम गहलोत का आभार जता रही हैं. मंगलवार को अभिलाषा समेत करीब 40 बच्चे अलग-अलग जगहों से जोधपुर पहुंचे. केन्द्रीय बस स्टैंड पर स्वास्थ्य विभाग और पुलिस-प्रशासन उनकी स्क्रीनिंग करवाकर घर भेजने में जुटे रहा. इनमें जोधपुर के अलावा नागौर और बीकानेर के बच्चे भी शामिल हैं.



सीएम गहलोत लगातार जुटे हैं लोगों की सकुशल घर वापसी करवाने में
उल्लेखनीय है कि इससे पहले भी सीएम अशोक गहलोत कई बार लॉकडाउन में फंसे लोगों की गृह राज्य में वापसी करवा चुके हैं. मामला चाहे कोचिंग सिटी कोटा में फंसे विभिन्न राज्यों के स्टूडेंट्स का हो या फिर दूसरे राज्यों में फंसे प्रवासी राजस्थानियों और मजदूरों का हो सीएम अशोक लगातार सभी की सकुशल घर वापसी के प्रयासों में लगातार जुट हुए हैं. इसके लिए लंबा-चौड़ा प्रशासनिक अमला भी तैनात किया हुआ है. वहीं सीएम को किए पर ट्वीट पर मिले रेस्पॉस के बाद जोधपुर की उषा जैन और उनकी बेटी अभिलाषा भी काफी खुश हैं.

Corona Crisis: ग्रीष्मकालीन अवकाश में भी पात्र बच्चों को मिल सकेगा ‘मिड-डे मील

COVID-19: जयपुर में नहीं थम रही पॉजिटिव मरीजों की रफ्तार, आज फिर 23 नए केस आए
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज