लाइव टीवी

Lockdown: जोधपुर में सेल्फ आइसोलेशन का अनूठा तरीका, घर पर ताला लगाकर नोटिस चिपकाया
Jodhpur News in Hindi

Chandra Shekhar Vyas | News18 Rajasthan
Updated: March 26, 2020, 1:47 PM IST
Lockdown: जोधपुर में सेल्फ आइसोलेशन का अनूठा तरीका, घर पर ताला लगाकर नोटिस चिपकाया
इस नोटिस को देख कई लोग तारीफ कर रहे हैं.

कोरोना वायरस (COVID-19) के संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए देशभर में किए गए लॉकडाउन (Lockdown) को भले ही कुछ लोग गंभीरता से नहीं लेते हुए इसका उल्लंघन कर रहे हैं, लेकिन वहीं कुछ ऐसे लोग भी हैं जो इसका जिस शिद्दत के साथ पालन कर रहे हैं वह दूसरों के लिए अनुकरणीय है.

  • Share this:
जोधपुर. कोरोना वायरस (COVID-19) के संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए देशभर में किए गए लॉकडाउन (Lockdown) को भले ही कुछ लोग गंभीरता से नहीं लेते हुए इसका उल्लंघन कर रहे हैं, लेकिन वहीं कुछ ऐसे लोग भी हैं जो इसका जिस शिद्दत के साथ पालन कर रहे हैं वह दूसरों के लिए अनुकरणीय है. ऐसा ही एक मामला जोधपुर में सामने आया है. यहां एक व्यक्ति ने अपने घर के बाद ताला लगाकर नोटिस चस्पा करवा दिया है कि आगामी 21 दिन से उनसे मिलने के लिए कोई नहीं आए.

देशभर में 21 दिनों का लॉकडाउन है
कोरोना वायरस के मद्देनजर देशभर में 21 दिनों का लॉकडाउन है. भारत सरकार के लॉक डाउन के फैसले के बाद लोग सेल्फ आइसोलेशन के लिए अलग-अलग तरीके अपना रहे हैं. जोधपुर शहर के राममोहल्ला क्षेत्र की दामोदर कॉलोनी निवासी जानकीलाल और रवीन्द्र कच्छवाह ने लॉकडाउन का सही तरीके पालना करना तय किया. उन्होंने एक बड़े कागज पर सूचना लिखकर अपने पड़ोसी को दे दी और उसे बोल दिया कि इसे हमारे मकान के गेट पर चस्पा कर दें.

ईश्वर से प्रार्थना करें, यही सबसे अच्छा तरीका है



नोटिस लगाने के साथ ही बाहर से ताला लगवाकर चाबी अंदर ले ली. अब परिवार के सभी सदस्य पूरी तरह से अपने मकान में आइसोलेट हैं. हाथ से लिखे इस नोटिस पर लिखा है कि '44 वर्षों से लगातार खुला रहने वाला पुष्पा निवास आम लोगों के लिए बंद है. ईश्वर से प्रार्थना करें. दिन की शुरुआत करने का यहीं सबसे अच्छा तरीका है.' इस नोटिस को देख कई लोग तारीफ कर रहे हैं.

सभी को सख्ती के साथ इसकी पालना करनी चाहिये
उन्होंने बताया कि जब देश के प्रधानमंत्री व प्रदेश के मुख्यमंत्री ने लोगों की भलाई के लिए लॉकडाउन लागू कर दिया है तो सभी को सख्ती के साथ इसकी पालना करनी चाहिये. घर बैठने में किसी प्रकार की दिक्कत नहीं है. जानकीलाल ने बताया कि यदि शहर के सभी लोग यह तरीका अपना ले तो कोरोना का फैलाव अपने आप ही थम जाएगा. यदि इसे देखकर कुछ लोग भी प्रेरित होते हैं तो मेरा प्रयास सफल हो जाएगा. रविंद्र कछवाह ने बताया कि हमने अपने सभी रिश्तेदारों को फोन पर सूचित कर दिया कि आगामी 21 दिन तक हम से मिलने कोई हमारे घर पर नहीं आए.

COVID-19: अब 'सोना-2.5' रोबोट करेगा कोरोना पीड़ितों की सेवा, ये है खासियत

COVID-19: राजस्थान में अब तक 38 पॉजिटिव केस, सबसे ज्यादा 16 भीलवाड़ा में

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए जोधपुर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: March 26, 2020, 1:43 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर