Home /News /rajasthan /

Lovely Kandara Encounter: परिजनों ने 4 दिन बाद भी नहीं लिया शव, वाल्मिकी समाज धरने पर बैठा

Lovely Kandara Encounter: परिजनों ने 4 दिन बाद भी नहीं लिया शव, वाल्मिकी समाज धरने पर बैठा

लवली कंडारा के परिजन और वाल्मिकी समाज अपनी मांगों को लेकर धरने पर बैठे है.

लवली कंडारा के परिजन और वाल्मिकी समाज अपनी मांगों को लेकर धरने पर बैठे है.

Lovely Kandara encounter case: हिस्ट्रीशीटर लवली कंडारा एनकाउंटर मामले में चल रहा गतिरोध चार दिन बाद आज भी बरकरार है. लवली के परिजन और वाल्मिकी समाज (Valmiki Samaj) अपनी मांगों को लेकर अड़ा हुआ है. नागौर सांसद हनुमान बेनीवाल भी जोधपुर में मौजूद हैं.

अधिक पढ़ें ...

जोधपुर. सनसिटी जोधपुर में हिस्ट्रीशीटर लवली कंडारा एनकाउंटर (Lovely Kandara encounter case) मामले को लेकर गत चार दिन चल रहा गतिरोध अभी तक टूटा नहीं है. लवली कंडारा के परिजन और वाल्मिकी समाज (Valmiki Samaj) अपनी मांगों को लेकर धरने पर बैठा है. मांगें पूरी नहीं होने के कारण उन्होंने अभी तक लवली का शव नहीं लिया था. आज नागौर सांसद हनुमान बेनीवाल (Hanuman Beniwal) और पुलिस प्रशासन तथा प्रदर्शनकारियों के बीच अभी वार्ताओं का दौर चल रहा है. जिला कलेक्टर की अगुवाई में वार्ता हो रही है. लवली के परिजनों की मांग है कि एनकाउंटर करने वाले पुलिसकर्मियों को सस्पेंड किया जाये, मामले में हत्या का केस दर्ज किया जाये, इसकी सीबीआई जांच करवाई जाये और पीड़ित परिवार को आर्थिक पैकेज दिया जाये.

जोधपुर में बुधवार शाम को बनाड़ रोड पर पुलिस और हिस्ट्रीशीटर लवली कंडारा के बीच मुठभेड़ हुई थी. इसमें दोनों तरफ से सरेराह फायरिंग हुई. फायरिंग में लवली के पेट में गोली लगने से वह जख्मी हो गया था. बाद में अस्पताल में उसकी मौत हो गई थी. परिजनों ने इस मामले पुलिस पर लवली का फर्जी एनकाउंटर करने का आरोप लगाते हुये मांगें नहीं मानें जाने तक शव लेने से इनकार कर रखा है.

सीएम ने लिया पूरे मामले का फीडबैक
शनिवार को राष्ट्रीय लोकतांत्रिक पार्टी के संयोजक एवं नागौर सांसद हनुमान बेनीवाल ने धरना स्थल पर पहुंचकर ऐलान किया था कि थाना अधिकारी को निलंबित किया जाए. इसके बाद शाम को सर्किट हाउस में जोधपुर पुलिस कमिश्नर जोस मोहन ने बेनीवाल से मुलाकात भी की थी. सूत्रों के अनुसार मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के कल दिल्ली से आते ही उन्होंने पूरे मामले का फीडबैक लेकर स्थानीय नेताओं और प्रशासन को सक्रिय किया है. इसके बाद कलेक्टर ने बातचीत की पहल कर सहमति बनाने का प्रयास कर रहे हैं. बेनीवाल ने कहा कि सरकार को मांगें माननी पड़ेगी. अन्यथा हम राजस्थान बड़ा आंदोलन करेंगे.

Tags: Crime in Rajasthan, Encounter, Hanuman Beniwal, Rajasthan latest news

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर