लाइव टीवी

भारत से पाकिस्तान भेजे जाने पर बोलीं काजल- जीते जी तो नहीं जाएंगे

News18 Rajasthan
Updated: November 21, 2019, 6:22 PM IST
भारत से पाकिस्तान भेजे जाने पर बोलीं काजल- जीते जी तो नहीं जाएंगे
पति को पाकिस्तान भेजने पर महिला ने खुदकुशी करने की बात कही है.

पाकिस्तान में हो रहे जुल्मों से मुक्ति पाने के लिए वहां से भागकर हिंदुस्तान आए परिवार (Pakistani Hindu Migrants) के 3 लोगों को वापस पाक डिपोर्ट (Deportation) करने का मामला सामने आया है. ऐसा करने पर परिवार के लोगों ने खुदकुशी करने की बात कही है.

  • Share this:
जोधपुर. पाकिस्तान (Pakistan) से 6 साल पहले हिंदुस्तान आए हिंदू परिवार (Pakistani Hindu Migrants) के लिए उस समय विकट स्थिति बन गई जब उनके परिवार के 3 लोगों को वापस पाकिस्तान डिपोर्ट (Deportation) करने की बात सामने आई. दरअसल, यह परिवार पाकिस्तान में हो रहे जुल्मों से मुक्ति पाने के लिए पाकिस्तान से भागकर हिंदुस्तान आ गया था. उनको यह लगा था कि हिंदुस्तान आने के बाद उनकी सारी तकलीफ है खत्म हो जाएगी. लेकिन 6 साल बाद उनके जीवन में तब भूचाल आ गया जब सीबीआई ने इस 19 लोगों के परिवार के तीन सदस्यों को वापस पाकिस्तान भेजने की बात कही. यह परिवार जिला कलेक्टर और केंद्रीय जल शक्ति मंत्री (Minister for Jal Shakti ) गजेंद्र सिंह शेखावत (Gajendra Singh Shekhawat) के ऑफिस के चक्कर काट रहा है. लेकिन इनकी समस्या का कहीं निस्तारण होता नजर नहीं आ रहा.

परिजनों का कहना है जोधपुर बहुत महंगा शहर है और खेती-बाड़ी के काम से वे अपने पुराने गांव जहां से आजादी के बाद में पाकिस्तान गए थे वहां खेती करने चले गए. जिसके बाद सीबीआई ने इन 3 लोगों को पाकिस्तान डिपोर्ट करने का मानस बना लिया. इस परिवार के सदस्य आंखों में आंसू लिए दर बदर की ठोकरें खा रहे हैं.

migrant family, deported to Pakistan
पाक विस्थापित परिवार पर सरकारी आदेश के बाद मानो पहाड़ टूट पड़ा है.


चार बच्चों को लेकर भारत में किसके सहारे रहेगी परमेश्वरी

परमेश्वरी के लिए तो यह आदेश मानो उस पर पहाड़ टूट पड़ा. उसके पति को पाकिस्तान भेजने के आदेश हो गए हैं. ऐसे में उसके सामने समस्या यह है कि वह अपने चार बच्चों को लेकर भारत में किसके सहारे रहेगी. परमेश्वरी का आरोप है कि जब सीबीआई ऑफिस में इस बात की उसने गुहार की तो उन्होंने कहा कि जाकर भले ही आत्महत्या कर लो लेकिन उनको तो यहां से पाकिस्तान भेज दिया जाएगा.

मेरे पति को वापस पाकिस्तान भेज रहे हैं. यहां आने के बाद हमारे दो और बेटियों का जन्म हुआ है. अब चार बेटियों के साथ यहां क्या करूंगी? हमारे पास खुदकुशी करने के अलावा कोई चारा नहीं बचा, लेकिन कलेक्टर साहब कहते हैं कि जो करना कर लो, तुम्हारे पति को भेज कर रहेंगे.
परमेश्वरी, पाक विस्थापित


काजल की शादी तय लेकिन...काजल की अपनी अलग समस्या है. काजल कि आने वाले कुछ दिनों में शादी है लेकिन सीबीआई ने काजल को कल पाकिस्तान की गाड़ी में बैठाने की बात कही है. काजल का मानना है कि वह पाकिस्तान में सुरक्षित नहीं है. ऐसे में उसने यह स्पष्ट कर दिया है कि जीते जी तो वह पाकिस्तान नहीं जाएगी अगर जाएगी तो उसकी लाश जाएगी.

बहरहाल, इस परिवार का कहना है कि यदि उसके परिजनों ने वीजा की शर्तों का उल्लंघन किया है तो उसके लिए उन्हें जेल भेज दिया जाए या कानून सम्मत सजा दी जाए. लेकिन उन्हें किसी भी सूरत में पाकिस्तान नहीं भेजा जाए. पाकिस्तान जाने से अच्छा वह मौत को गले लगाना ज्यादा पसंद करेंगे.

ये भी पढ़ें- 
राजस्थान में इन मुस्लिम बेटियाें की कामयाबी के चर्चे
केन्द्र सरकार के खिलाफ राजस्थान में आज कांग्रेस का हल्ला बोल

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए जोधपुर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 21, 2019, 3:32 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर