जोधपुर हाईकोर्ट में नाबालिग ने दी आत्महत्या की धमकी, पिता पर लगाया बेचने का आरोप

जोधपुर हाईकोर्ट.
जोधपुर हाईकोर्ट.

जोधपुर हाईकोर्ट में सोमवार को उस समय एक अजीबोगरीब स्थिति पैदा हो गई जब एक नाबालिग ने जज के सामने ही आत्महत्या की धमकी दे डाली. किशोरी ने पिता पर उसे बेचने का आरोप लगाते हुए जज से उसकी बड़ी बहन के पास भेजने की गुहार भी लगाई.

  • Share this:
जोधपुर हाईकोर्ट में सोमवार को उस समय एक अजीबोगरीब स्थिति पैदा हो गई जब एक नाबालिग ने जज के सामने ही आत्महत्या की धमकी दे डाली. किशोरी ने पिता पर उसे बेचने का आरोप लगाते हुए जज से उसकी बड़ी बहन के पास भेजने की गुहार भी लगाई.

दरअसल, शहर के प्रतापनगर निवासी प्रेम खान ने अपनी नाबालिग पुत्री को लेकर एक बंदी प्रत्यक्षीकरण याचिका दायर कर रखी थी, जिस पर आज हाईकोर्ट जस्टिस गोपालकृष्ण व्यास की खण्डपीठ के सामने सुनवाई हुई.

सुनवाई के दौरान हाईकोर्ट जस्टिस गोपाल कृष्ण व्यास उस समय सकते में आ गए जब नाबालिग ने भरी अदालत में आत्महत्या करने की धमकी दे डाली. हाईकोर्ट के विद्वान न्यायाधीश गोपालकृष्ण व्यास ने नाबालिक के अंतर्मन के द्वंद्व को समझते हुए मामले में आदेश जारी किए.



हाईकोर्ट की खण्डपीठ ने नाबालिग की पीड़ा को समझते हुए यह जानने का प्रयास किया कि वह आत्महत्या की धमकी क्यों दे रही है तो चैकाने वाली बात सामने आई. नाबालिग ने बताया कि उसके पिता उसे तीन बार बेच चुके हैं. साथ ही नाबालिग ने यह भी कहां कि वह सुधारगृह नहीं जाएगी. वह अपनी बहन के पास रहना चाहती है.
उसने कहा कि उसके पिता उसे तीन बार बेच चुके है और आगे भी जब तक वह 18 वर्ष की न हो जाए तब तक उसकी शादी नहीं की जाए और न ही उसके साथ मारपीट की जाए. इसके बाद हाईकोर्ट की खण्डपीठ ने आदेश पारीत करते हुए नाबालिग को उसकी सबसे बड़ी बहन के पास भेजने के आदेश दिए.

 
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज