नगर निगम चुनाव: अपने-अपने घरों में भारी पड़ रहे हैं सीएम गहलोत और केन्द्रीय मंत्री शेखावत

दोनों दिग्गजों के नगर निगम क्षेत्रों में उनकी पार्टियां लीड पॉजिशन बनाये हुये है.
दोनों दिग्गजों के नगर निगम क्षेत्रों में उनकी पार्टियां लीड पॉजिशन बनाये हुये है.

Municipal Corporation elections: जोधपुर उत्तर और दक्षिण नगर निगम क्षेत्रों में बीजेपी-कांग्रेस के दोनों दिग्गज सीएम अशोक गहलोत और केन्द्रीय मंत्री गजेन्द्र सिंह शेखावत अपने-अपने इलाके में भारी पड़ रहे हैं.

  • Share this:
जोधपुर. राजस्‍थान में जोधपुर उत्तर और जोधपुर दक्षिण नगर निगम के चुनाव (Municipal Corporation elections) की मतगणना हो रही है. इसमें कांग्रेस और बीजेपी के दिग्गज नेता की पार्टी अपने गृह इलाके में भारी पड़ रही है. जोधपुर उत्तर में सीएम अशोक गहलोत (Ashok Gehlot) का विधानसभा क्षेत्र सरदारपुरा और शहर का इलाका आता है. इसी निगम क्षेत्र में सीएम का पैतृक आवास भी है. यहां कांग्रेस तेजी से आगे बढ़ रही है. वहीं, जोधपुर दक्षिण में यहां के सांसद एवं केन्द्रीय मंत्री गजेन्द्र सिंह शेखावत (Gajendra Singh Shekhawat) का आवास है. वहां बीजेपी आगे चल रही है.

जोधपुर उत्तर नगर निगम के 80 वार्डों में से कांग्रेस अभी तक 28 वार्डों में जीत का परचम लहरा चुकी है. वहीं, यहां बीजेपी अभी तक महज 13 सीटों पर जीत दर्ज कर पाई है. यहां एक निर्दलीय उम्मीवार ने भी बाजी मारी है. 8 सीटों पर निर्दलीय प्रत्याशियों ने बाजी मारी है. यह क्षेत्र सीएम अशोक गहलोत का गृहक्षेत्र भी है. इस क्षेत्र में उनका आवास और विधानसभा क्षेत्र दोनों हैं. यहां बीजेपी लाख प्रयासों के बावजूद भी उबर नहीं पा रही है.

यह भी पढ़ें- Municipal Corporation election results live: जयपुर में BJP ले रही है लीड

जोधपुर दक्षिण में बीजेपी का दबदबा


जोधपुर दक्षिण नगर निगम में भी 80 वार्ड हैं. इस क्षेत्र में जोधपुर सांसद केन्द्रीय मंत्री गजेन्द्र सिंह शेखावत का आवास है. इस निगम क्षेत्र में बीजेपी ने कांग्रेस से लीड ले रखी है. यहां अब तक घोषित परिणामों में से बीजेपी 39 वार्ड अपने नाम कर चुकी है. यहां कांग्रेस का पलड़ा थोड़ा कमजोर पड़ रहा है. यहां कांग्रेस ने अभी तक 17 वार्ड ही जीते हैं और 5 पर निर्दलीय प्रत्याशियों ने जीत दर्ज कराई है.

दोनों की प्रतिष्ठा से जुड़ा है निगम चुनाव
जोधपुर के दोनों नगर निगम क्षेत्र सीएम अशोक गहलोत और केन्दीय मंत्री गजेन्द्र सिंह शेखावत की प्रतिष्ठा के प्रश्न बने हुये हैं. निगम के चुनाव परिणाम दोनों दिग्गजों की शहर के मतदाताओं पर पकड़ को भी दर्शाएगा. इन चुनाव परिणामों का असर पंचायती राज चुनावों पर भी पड़ेगा.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज