जोधपुर: कोरोना के बीच आया नया संकट, आंदोलन पर उतरे रेजिडेंट डॉक्टर, अनिश्चितकालीन हड़ताल की चेतावनी

रेजिडेंट डॉक्टर्स का कहना है कि अगर 16 मई तक उनकी मांगें नहीं पूरी की गई तो वे अनिश्चितकालीन हड़ताल पर चले जाएंगे.

रेजिडेंट डॉक्टर्स का कहना है कि अगर 16 मई तक उनकी मांगें नहीं पूरी की गई तो वे अनिश्चितकालीन हड़ताल पर चले जाएंगे.

Resident doctor's movement started in Jodhpur: सनसिटी के डॉ. एसएन मेडिकल कॉलेज के रेजिडेंट्स डॉक्टर्स ने अपनी मांगों को लेकर आज से आंदोलन शुरू कर दिया है. रेजीडेंट्स डॉक्टर्स ने चेतावनी दी है कि अगर उनकी मांगें नहीं मानी गई तो वे अनिश्चितकालीन हड़ताल पर चले जाएंगे.

  • Share this:

जोधपुर. सनसिटी जोधपुर शहर में कोरोना के कहर के बीच अब एक नई मुसीबत (Trouble) आन पड़ी है. जोधपुर के डॉ. एसएन मेडिकल कॉलेज के रेजिडेंट्स डॉक्टर्स ने अपनी मांगों को लेकर आंदोलन (Resident doctor's movement started) शुरू कर दिया है. आज से मेडिकल कॉलेज के 400 से ज्यादा रेजिडेंट्स डॉक्टर आंदोलन पर उतर गये हैं. रेजिडेंट्स की मांग है कि परीक्षाओं को समय पर आयोजित करवाया जाये.

डॉ. एसएन मेडिकल कॉलेज के रेजिडेंट्स ने अपनी मांगों को लेकर मेडिकल कॉलेज के प्राचार्य डॉ. एसएस राठौड़ को ज्ञापन सौंपकर आज से आंदोलन शुरू कर दिया है. वे आज और कल दो दिन काली पट्टी बांधकर विरोध प्रदर्शन करेंगे. उसके बाद 16 मई तक एक घंटे तक कार्य बहिष्कार करने का निर्णय लिया गया है.

Youtube Video

इन मांगों को लेकर शुरू कर रहे हैं आंदोलन
रेजिडेंट्स डॉक्टर एसोसिएशन के अध्यक्ष डॉ. राजेन्द्र ने बताया कि हमारी प्रमुख मांग पीजी बैच-2018 की परीक्षा तय समय पर करवाना या अतिरिक्त टाइम देते हुए सभी को प्रमोट करने की ह. इसके साथ ही रेजीडेंट डॉक्टर की इन सर्विस को 3 साल के बाद रेजीडेंट अवधि को वन टाइम एग्जाम मानकर अकेडमिक सीनियर रेजिडेंट्स में कॉउंट करने के आदेश जारी करने की है. इसके अलावा रेजीडेंट डॉक्टर्स के वेतन वृद्धि की भी मांग लंबे समय से बाकी है. लिहाजा इसको भी पूरा किया जाये. वहीं कोरोना संक्रमण वार्ड में ड्यूटी के बाद 7 दिन का आइसोलेशन शामिल किया जाये.

16 मई के बाद अनिश्चितकालीन हड़ताल की चेतावनी

डॉ. राजेन्द्र ने कहा कि फिलहाल तो हमारा आंदोलन सांकेतिक तौर पर शुरू कर रहे हैं. लेकिन अगर 16 मई तक मांगें नहीं पूरी की गई तो मेडिकल कॉलेज के रेजीडेंट्स डॉक्टर अनिश्चितकालीन हड़ताल पर चले जाएंगे. उल्लेखनीय है कि जोधपुर में कोरोना संक्रमण के हालात भयावह है। जोधपुर राजस्थान को दूसरा सबसे संक्रमित शहर बना हुआ है. अगर रेजिडेंट हड़ताल पर जाते हैं तो यहां की पूरी व्यवस्था चरमरा जायेगी.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज