राजस्थान पंचायत चुनाव: हारे हुये प्रत्याशी का मनोबल बनाये रखने के लिये ग्रामीणों ने भेंट किये 21 लाख रुपये

इस दौरान वहां विवाह समारोह जैसा नजारा नजर आया.
इस दौरान वहां विवाह समारोह जैसा नजारा नजर आया.

पंचायत चुनाव के बाद जोधपुर (Jodhpur) जिले में एक अनूठा आयोजन हुआ है. यहां एक हारे हुये सरपंच प्रत्याशी का मनोबल बनाने रखने के लिये ग्रामीणों ने उसे 21 लाख रुपये की आर्थिक सहायता (Financial aid) भेंटकर अनूठा उदाहरण (Unique example) पेश किया है.

  • Share this:
जोधपुर. चुनाव में जीत के बाद मतदाताओं को धन्यवाद (Thanks) देने के लिए आयोजन रखने के कई मामले आपने देखे होंगे, लेकिन जोधपुर में चुनाव के बाद एक बेहद अनूठा आयोजन (Unique example) हुआ है. यहां जब एक हारे हुये प्रत्याशी ने मतदाताओं का आभार व्यक्त करने के लिये धन्यवाद सभा रखी तो ग्रामीण अभिभूत हो गये. उन्होंने हारे हुये प्रत्याशी का मनोबल बनाने रखने के लिये उसे 21 लाख रुपये की आर्थिक सहायता (Financial aid) भेंट की. अब इस आयोजन के वीडियो और फोटो सोशल मीडिया में वायरल हो रहे हैं. वहीं इस आयोजन की चर्चा भी जोरों पर है.

84 मतों से हार गये थे देवासी
मामला जोधपुर के पीपाड़ तहसील से जुड़ा हुआ है. यहां की नानण ग्राम पंचायत चुनाव में मुकुंद देवासी अपनी प्रतिद्वंदी सुंदरी देवी से महज 84 मतों से हार गये थे. इससे मुकुंद देवासी नर्वस हो गये और उनका मनोबल काफी नीचे गिर गया था. हार के बावजूद देवासी खुद को मिले जनसमर्थन के कारण मतदाताओं के लिये कुछ करना चाह रहे थे. देवासी ने मतदाताओं का आभार व्यक्त करने के लिए एक धन्यवाद सभा का आयोजन किया. इसमें उन्होंने भोज का कार्यक्रम भी रखा. धन्यवाद सभा में पहुंचे मतदाता पराजित प्रत्याशी के व्यवहार और उससे मिले प्रेम के बाद उनकी आर्थिक मदद करने की बात करने लगे.

Rajasthan: करौली के बाद अब सीकर में एक बुजुर्ग की पत्थरों से पीट-पीटकर हत्‍या, 5 युवक हिरासत में
गाजे-बाजे के साथ संपन्न हुआ आयोजन


देखते ही देखते मौके पर बैठे-बैठे ही ग्रामीणों ने 21 लाख रुपए एकत्रित कर लिए. इसमें देवासी के पारिवारिक मित्र श्याम चौधरी ने 5 लाख 51 हजार रुपए और निवर्तमान सरपंच भानाराम ने 1 लाख 11 हजार रुपए मिलाये. उसके बाद गांव के वरिष्ठजनों ने सरपंच प्रत्याशी व उनके परिवार को यह राशि भेंट की. इस दौरान वहां किसी विवाह समारोह जैसा नजारा नजर आया. यह कार्यक्रम गाजे-बाजे के साथ संपन्न हुआ. पराजित प्रत्याशी और उसके परिजन भी ग्रामीणों से मिले इस स्नेह के कारण काफी अभिभूत नजर आये.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज