जोधपुर में बढ़ेगी कोरोना प्रोटोकॉल की सख्ती, पुलिस ने जारी किया Video, 10 घंटे में 10 लाख लोगों ने देखा

जोधपुर शहर में अकेले अप्रैल माह में ही कोरोना से 500 से अधिक लोगों की मौत हो चुकी है. अस्पताल कोरोना संक्रमितों से भरे पड़े हैं.

जोधपुर शहर में अकेले अप्रैल माह में ही कोरोना से 500 से अधिक लोगों की मौत हो चुकी है. अस्पताल कोरोना संक्रमितों से भरे पड़े हैं.

Corona Protocol in Rajasthan: जोधपुर में भयावह रूप ले चुके कोरोना संक्रमण को थामने और संक्रमण की चेन ब्रेक के लिए पुलिस ने सख्ती बढ़ा दी है. पुलिस ने आमजन से प्रोटोकॉल की पालना का आग्रह करते हुये सख्त कार्रवाई के DEMO का वीडियो जारी किया है.

  • Share this:
जोधपुर. सूर्यनगरी जोधपुर (Jodhpur) में तेजी से फैल रहे कोरोना के प्रकोप को थामने के लिये पुलिस अब सख्ती और बढ़ाने जा रही है. जोधपुर पुलिस ने इसके लिये बाकायदा वीडियो (Video) जारी कर जोधपुर के वाशिंदों को अलर्ट कर दिया है. पुलिस ने वीडियो जारी कर कहा है कि लोग कोरोना प्रोटोकॉल की पालना करें अन्यथा उन्हें टांगाटोली कर पकड़ा जायेगा.

पुलिस कमिश्नर दफ्तर (Police Commissioner Office) ने यह वीडियो बनवाकर इसे अपनी वेबसाइट पर डाला. इसके साथ ही सभी सोशल साइट्स पर भी यह वीडियो अपलोड पर आमजन को सावधान किया गया. पुलिस की ओर से 'रेड अलर्ट' का यह वीडियो जारी करने के महज 10 घंटे भीतर इसे करीब 10 लाख लोग देख चुके थे. जोधपुर पुलिस का यह वीडियो सोशल मीडिया में जमकर वायरल हो रहा है. इस वीडियो को जारी करने के बाद पुलिस ने एक्शन भी शुरू कर दिया. सोमवार शाम तक एक के बाद एक 49 लापरवाह लोगों को पकड़कर क्वारेटाइन सेंटर भेज दिया गया है.

कोरोना से मौत और चेन तोड़ने के लिये बनाया सख्त प्लान

जोधपुर शहर में अकेले अप्रैल माह में ही कोरोना से 500 से अधिक लोगों की मौत हो चुकी है. अस्पताल कोरोना संक्रमितों से भरे पड़े हैं. ऑक्सीजन को लेकर तो हाहाकार मचा हुआ है. जोधपुर शहर में संक्रमण की दर 45 फीसदी तक पहुंच गई है. टेस्टिंग में हर दूसरा व्यक्ति पॉजिटिव आने लगा है. इन हालात को देखते हुये पुलिस को इस एक्शन मोड़ पर आना पड़ा.
Youtube Video


रेड अलर्ट, जनअनुशासन पखवाड़ा 17 मई तक चलेगा

सोमवार को पावटा चौराहे पर तीन युवकों को पकड़कर डेमो दिया गया. इसमें बताया गया कि अब किस तरफ पुलिस गाइडलाइंस तोड़ने वालों के साथ सख्ती करने वाली है. पुलिस कमिश्नर जोस मोहन ने बताया कि शहर में कोरोना से बिगड़ रहे हालात को लेकर यह कदम उठाया गया है. सोमवार से इसकी शुरुआत हो गई है. रेड अलर्ट (Red Alert) जनअनुशासन पखवाड़ा 17 मई तक चलता रहेगा.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज